“हमें उन पर गर्व है”, स्पाइसजेट ने कैप्टन मोनिका खन्ना और सह-पायलट की सराहना की जिन्होंने 185 लोगों की जान बचाई

स्पाइसजेट के एक अधिकारी ने अपने पायलटों, कैप्टन मोनिका खन्ना और एयरलाइन की पटना-दिल्ली उड़ान के प्रथम अधिकारी बलप्रीत सिंह भाटिया की प्रशंसा की, जिन्होंने रविवार को पटना हवाई अड्डे से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के लिए उड़ान भरने के तुरंत बाद विमान के इंजन में आग लगने के बाद आपातकालीन लैंडिंग करवाई।

बताया जा रहा है कि विमान के एक इंजन में आग लग गई थी। घटना के बाद, कमांड पायलट कैप्टन मोनिका खन्ना ने एटीसी से बात करने के तुरंत बाद विमान के बाएं इंजन को बंद करने का फैसला किया। नियमों के मुताबिक विमान को एक चक्कर पूरा करना था। एक चक्कर लगाने के बाद, विमान को आनन-फानन में वापस ले लिया गया। जब बोइंग 737 आया, तो सिर्फ एक इंजन चालू था। सभी 185 यात्री सुरक्षित थे।

समाचार एजेंसी एएनआई ने स्पाइसजेट के फ्लाइट ऑपरेशंस के प्रमुख गुरचरण अरोड़ा के हवाले से कहा,“कप्तान मोनिका खन्ना और प्रथम अधिकारी बलप्रीत सिंह भाटिया ने घटना के दौरान साहस और सूझबूझ का परिचय दिया। वे पूरे समय शांत रहे, और विमान को अच्छी तरह से संभाला। वे अनुभवी अधिकारी हैं और हमें उन पर गर्व है।”

अधिकारियों ने पुष्टि की कि सभी यात्रियों को सफलतापूर्वक निकाल लिया गया और किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। जमीन पर मौजूद स्थानीय लोगों ने स्पाइसजेट बोइंग 737 के बाएं इंजन से चिंगारी निकलने का वीडियो बनाया।

चश्मदीदों के अनुसार, रनवे के करीब पहुंचने तक विमान का इंजन बुझ चुका था। सुरक्षित लैंडिंग के बाद, एयरलाइन कर्मियों और हवाई अड्डे के अधिकारियों ने कप्तान मोनिका को बधाई दी। इंजीनियरों के अनुसार, एक पक्षी के टकराने से पंखे के ब्लेड और इंजन को नुकशान पहुंचा था। डीजीसीए (नागरिक उड्डयन महानिदेशालय) इसकी आगे जांच करेगा।