उत्तरप्रदेश के बलिया में सरेआम उड़ी कानून की धज्जियां, SDM और CO के सामने युवक को गोलियों से उड़ाया..वीडियो !

उत्तरप्रदेश के बलिया जिले में सरकारी कोटे की दुकान को लेकर हुए विवाद के बाद SDM  और CO के सामने एक युवक को दिनदहाड़े गोली मार दी गई. घटना दुर्जनपुर गांव की बताई जा रही है. गोली लगने के बाद वहां अफरा-तफरी मच गई. गोली लगने से घायल शख्स को तत्काल अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई. इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. जिसमें लोग जहां-तहां भाग रहे हैं. बताया जा रहा है कि मौके पर मौजूद अफसर समेत सभी लोग भाग निकले. भगदड़ का फायदा उठाकर आरोपी धीरेन्द्र सिंह भी फरार हो गया.

बलिया हत्याकांड
Photo-sachnews.co.in

दिनदहाड़े युवक की हत्या

बलिया के दुर्जनपुर गांव में गुरुवार को अनोखी घटना घटी. राशन की दुकान के चयन को लेकर खुली बैठक चल रही थी. इस बैठक में एसडीएम और सीओ के अलावा पुलिस बल भी मौजूद था. लेकिन स्थानीय भाजपा नेता ने एक युवक की सबके सामने गोली मार कर हत्या कर दी. युवक को ताबड़तोड़ 4 गोलियां मारी गई. गोली लगते ही चारों तरफ लोग भागने लगे. इस बीच लोगों ने पथराव शुरु कर दिया और लाठी डंडा लेकर हमलावर पक्ष से भिड़ गए. बताया जा रहा है कि हत्या का आरोपी धीरेन्द्र सिंह भाजपा के सैनिक प्रकोष्ठ का जिलाध्यक्ष है.

एसडीएम और सीओ सहित कई पुलिस कर्मी निलंबित

उत्तरप्रदेश मे जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया गया है उससे वहां की कानून व्यवस्था पर एक बार फिर सवालिया निशान लग गया है. इतने बड़े ओहदेदार अफसरों के सामने हत्या की वारदात ने प्रशासनिक मशीनरी में हड़कंप मचा दिया है. डीआईजी का दावा है कि रात तक आरोपी को पकड़ लेगें लेकिन अभी तक पुलिस का हाथ खाली हैं. उधर एसडीएम और सीओ के सामने बीजेपी नेता धीरेन्द्र सिंह द्वारा युवक की हत्या होने के बाद योगी सरकार सकते मे हैं. मामले मे कड़ी कार्रवाई करते हुए एसडीएम सुरेश कुमार पाल और सीओ चंद्रकेश सिंह समेत वहां ड्यूटी पर मौजूद सभी पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है.

Also read- “Rahul Gandhi-person of foreign mentality…ignorant about Indian culture,” says BJP MLA who linked Rape To Sanskar

मृतक जयप्रकाश और धीरेन्द्र सिंह के बीच चल रहा था विवाद

खबर के अनुसार दुर्जनपुर गांव में कोटे की दुकान को लेकर भाजपा नेता धीरेन्द्र सिंह और जयप्रकाश के बीच विवाद चल रहा था. इस मामले में ही इलाके के एसडीएम और सीओ विवाद को सुलझाने पहुंचे थे. एसपी देवेन्द्र नाथ के अनुसार दोनों पक्षों में विवाद के बाद फायरिंग की घटना हुई जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई. वहीं मृतक के बेटे ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है. उसने बताया कि उन लोगों ने मौके पर ही आरोपी को पकड़ लिया था. लेकिन पुलिस ने उसे भागने में मदद किया. बताया जा रहा है कि धीरेन्द्र सिंह बैरिया विधायक सुरेन्द्र सिंह का करीबी है और बीजेपी के फ्रंटल संगठन से जुड़ा हुआ है.