विज्ञापन विवाद के बाद अचानक बढ़ने लगे तनिष्क के खरीददार, दुकानों में लगी भीड़, जानिए वजह

तनिष्क को लेकर दिखाए गए एक विवादित विज्ञापन के बाद इस ब्रांड को तमाम लोगों ने बॉयकॉट करना शुरु कर दिया था. हालांकि अब अचानक तनिष्क के प्रोडक्ट्स खरीदने वालों की भीड़ लगनी शुरु हो गई है. यह बात खुद तनिष्क विज्ञापन अभियान के निर्माता ने बताया है. उनके अनुसार तनिष्क के विज्ञापन को लेकर जहां एक ओर विवाद खड़ा हो गया था वहीं अब ज्वेलरी ब्रांड को मुनाफा होना शुरु हो गया है. निर्माता ने कहा कि विज्ञापन विवाद के बाद लोगों ने इस ब्रांड के विज्ञापन को देखा जिससे कंपनी की लोकप्रियता बढ़ी. अब तनिष्क प्रोडक्ट्स के खरीददारों की संख्या भी बढ़ गई है.

तनिष्क विज्ञापन विवाद
Photo-abplive.com

विज्ञापन का विरोध करने वालों ने ही तनिष्क का कर दिया प्रचार

तनिष्क के जिस विवादित विज्ञापन को वापस ले लिया गया है उसके चलते ही इस ब्रांड की जबरदस्त एडवर्टाइजिंग हुई है. जिसके चलते बड़ी संख्या में लोगों ने तनिष्क के प्रोडक्ट्स को खरीदना शुरु कर दिया है. विज्ञापन के निर्माता का कहना है कि विज्ञापन को बड़ी संख्या में लोगों ने देखा औऱ इस विवाद से एक ऐसा रुझान पैदा हुआ कि लोग अपनी राय को जाहिर करने के लिए तनिष्क के उत्पाद खरीद रहे हैं.

तनिष्क के समर्थन में उतरे लोग

इस विज्ञापन अभियान को तैयार करने वाली एजेंसी whats your problem  के मैनेजिंग पार्टनर औऱ क्रिएटिव हेड अमित अकाली ने कहा कि लोग हमारे सपोर्ट मे आ रहे हैं और कह रहे हैं कि हम इस विज्ञापन को खत्म नही होगे देगें. उन्होंने कहा कि विज्ञापन के पीछे सिर्फ सांस्कृतिक वास्तविकताओं को दिखाने का मकसद था और यह बिलकुल भी राजनीतिक नही था. निर्माता ने कहा कि तनिष्क का एकत्वम या एकता अभियान जारी रहेगा.

Also read- Netflix to give free access to Indian users

क्या था विज्ञापन

तनिष्क ज्वेलरी के एक विज्ञापन में मुस्लिम सास को अपनी गर्भवती हिंदू बहू का ध्यान रखते हुए दिखाया गया था. सोशल मीडिया पर कुछ समूहों ने इस विज्ञापन पर नाराजगी जताई थी जिसके बाद टाटा समूह के तनिष्क ज्वेलरी ने 55 सेंकेड के इस विज्ञापन को वापस लेने का फैसला लिया था.