गृह-मंत्रालय की रिपोर्ट में चौकाने वाला खुलासा, तबलीगी जमात कार्यक्रम के कारण कोविड-19 कई लोंगों तक फैला

केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने सोमवार को एक चौकानें वाला खुलासा किया है. उनके अनुसार दिल्ली के निजामुद्दीन क्षेत्र में मार्च के दौरान तबलीगी जमात के कार्यक्रम में जमा हुए लोगों के कारण कोरोना वायरस कई व्यक्तियों तक फैला. केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने राज्यसभा में यह भी कहा कि दिल्ली पुलिस ने तबलीगी जमात के 233 सदस्यों को गिरफ्तार किया तथा 29 मार्च से संगठन के मुख्यालय से 2361 लोगों को निकाला गया है. उन्होंने यह भी कहा कि ‘जमात प्रमुख मौलाना मोहम्मद साद के बारे में जांच चल रही है’.

तबलीगी जमात
Photo-india.com

दिल्ली पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार कोविड-19 के प्रकोप के संबंध में विभिन्न प्राधिकरणों द्वारा जारी दिशा-निर्देशों और आदेशों के बावजूद,एक बंद परिसर के अंदर एक बुहत बड़ी सभा हुई जिसमें मास्क पहनने तथा संक्रमण मुक्त करने के नियमों का पालन नही किया गया.  इसके अलावा सामाजिक दूरी रखने के प्रावधानों को नजरअंदाज किया गया. जिससे कई व्यक्तियों में कोरोना वायरस फैल गया.

यह भी पढ़ें-  विवार का दिन संसद के लिए काला दिन, राज्यसभा से विपक्ष के 8 सांसद एक हफ्ते के लिए निलंबित !

बता दें कि दिल्ली पुलिस ने 36 देशों के 956 विदेशी नागरिकों के खिलाफ अब तक 59 आरोपपत्र दायर किए हैं. केन्द्र सरकार ने जमात में हिस्सा लेने आए विदेशी नागरिकों का वीजा रद्द कर दिया औऱ उन्हें ब्लैकलिस्ट कर दिया है. उधर देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 55 लाख के करीब पहुंच गई है. इस समय देश में 1003299 कोरोना वायरस के एक्टिव मामले हैं. मौत की संख्या की बात की882 लोगों की संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है.

Also read-  Not Family But Friends Are the Key to Happiness Says Study