गाय को छुड़ाने के लिए बाप को पीठ पर लादकर इधर-उधर घूम रहा है बेटा, जानिये इसके पीछे की वजह

मध्य प्रदेश के इन्दौर शहर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है जिसमें एक बेटा अपने लाचार बाप को पीठ पर लादकर अपनी गाय को छुड़ाने के लिए यहाँ वहां भटक रहा है. अधिकारियों से लेकर नेताओं तक सभी के पास ये बेटा अपने बाप के साथ अपनी गाय को छुड़ाने के लिए भटक रहा है लेकिन कोई भी मदद करने को तैयार नही है.

गाय को छुड़ाने के लिए भटक रहा है युवक 

दरअसल पूरा मामला इंदौर नगर निगम के एक कार्रवाई से जुड़ा हुआ है. इंदौर नगर निगम ने एक मुहिम चलाई थी जिसके तरह सडकों पर घूम रहे आवारा पशुओं को पकड़ा जा रहा था. इसी दौरान इनकी भी गाय नगर निगम में पकड ली. इंदौर के बाणगंगा इलाके के ये गरीब बाप-बेटा अपनी गाय को नगर-निगम इंदौर से छुड़ाने के लिए करीब 15 दिन से इसी तरह भटक रहा है. उसका कहना है नगर निगम के कर्मचारियों ने उसकी गाय पकड़ ली है जिससे उसके परिवार के सामने रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया है.

गाय ही रोजी-रोटी अब नगर निगम ने पकड़ा 

बेटे ने बताया कि गाय का दूध बेचकर दोनों बाप-बेटे अपना पेट पालते हैं, लेकिन अब गाय न होने से उनके जीवन यापन का एकमात्र सहारा भी छिन गया है. बेटे ने कहा कि उसका पिता लकवाग्रस्त हैं. वो चल फिर नहीं सकते. जब से गाय गई है तब से जीवन मुश्किल हो गया है. बेबस बेटे ने कहा कि निवर्तमान महापौर मालिनी गौड़ के पास भी गया था और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी के पास भी अपनी फरियाद देकर आया है, लेकिन कोई मदद को तैयार नहीं है.

कोरोना वायरस के चलते रोजगार ठप्प 

एक तरफ जहाँ कोरोना वायरस के चलते लोगों के काम धंधे बंद हो चले हैं. लोगों के रोजगार छिन गये हैं. ऐसे में इन्दौर नगर निगम द्वारा चलाये गये आवारा पशुओं को पकड़ने के अभियान में एक गरीब लाचार परिवार की रोजी रोटी भी छिन गयी है. ऐसे में मदद के लिए भटकते इस परिवार की मदद के लिए कोई भी आगे नही आया है.