“क्या भारत को पाकिस्तान को कश्मीर देने का फैसला करना चाहिए?”, एमपीपीएससी के प्रश्न पत्र पर हुआ बबाल

मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग (एमपीपीएससी) की प्रारंभिक परीक्षा आयोजित किए जाने के एक दिन बाद भारतीय केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर के बारे में एक विवादित परीक्षा प्रश्न ऑनलाइन वायरल हो गया।

सवाल था, “क्या भारत को कश्मीर पाकिस्तान को देने का फैसला करना चाहिए?” ओर यह प्रश्न प्रारंभिक परीक्षा के सभी चार सेटों सेट ए, बी, सी और डी में था। प्रश्न के बाद दो तर्क दिए गए:

तर्क 1: हां, इससे भारत का बहुत-सा धन बचेगा।

तर्क 2: नहीं, ऐसे निर्णय से इसी तरह की और भी मांगें बढ़ जाएंगी।

चार उत्तर विकल्प थे:

• उ0- तर्क 1 प्रबल है।

• बी- तर्क 2 प्रबल है।

• सी- तर्क 1 और तर्क 2 दोनों प्रबल हैं।

• डी- दोनों तर्क 1 और 2 प्रबल नहीं हैं।

इस सवाल के जवाब में मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (एमपीपीएससी) ने सोमवार को दो विशेषज्ञों पर प्रतिबंध लगा दिया और जांच की मांग की।

एमपीपीएससी के मीडिया समन्वयक रवींद्र पंचबाई ने कहा,”…दोनों विशेषज्ञों को जीवन भर के लिए ब्लैकलिस्ट में डाल दिया गया है। एमपीपीएससी ने अन्य आयोगों और उच्च शिक्षा विभागों को भी पत्र लिखकर उन्हें भी ब्लैकलिस्ट करने के लिए कहा। हमने उन संस्थानों को भी सूचित कर दिया है जहां वे काम कर रहे हैं।”

एमपी राज्य के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा,“एमपीपीएससी ने मामले में संज्ञान ले लिया है और विशेषज्ञों को ब्लैकलिस्ट कर दिया …।”