सुशांत केस में शरद पवार का बयान आया सामने, बोले- यह बड़ा मुद्दा नहीं

सुशांत सिंह राजपूत की खुदखुशी का मामला अब उलझता जा रहा है. अभी इस मामले की जाँच कौन करेगा इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है. हालाँकि इस मुद्दे पर अब जमकर राजनीति हो रही है. वहीँ अब पूरे मामले पर महाराष्ट्र के बड़े नेता शरद पवार का बयान सामने आया है. शरद पवार ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की खुदखुशी का मामला बड़ा नही है.

पवार ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक व्यक्ति जो खुदकुशी कर मरता है, लेकिन उस पर इतनी चर्चा क्यों की जा रही है? मैं नहीं मानता हूं कि यह इतना बड़ा मुद्दा है। एक किसान ने मुझसे कहा कि 20 किसानों ने खुदकुशी कर ली, लेकिन उस पर किसी ने नहीं बात की” एनसीपी अध्यक्ष ने आगे कहा, मैंने महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस को पिछले 50 वर्षों से देखा है और उन पर विश्वास किया है. मैं उस पर टिप्पणी नहीं करूंगा जो उन पर आरोप लगा रहे हैं, अगर कोई यह सोचता है कि सीबीआई या किसी अन्य एजेंसी को इसकी जांच करनी चाहिए तो मैं उसका विरोध नहीं करूंगा,

वहीँ इससे पहले शिवसेना के नेता संजय राउत ने सुशांत के पिता को लेकर एक बयान दिया था जिसके बाद हंगामा मच गया है. दरअसल अब सुशांत के परिवार के तरफ से मांग की जा रही है कि संजय राउत अपने बयान पर माफ़ी मांगे. इसी पर संजय राउत ने कहा कि उनकी तरफ से इस बारे में अगर कोई गलती हुई हो तो वे इस पर विचार करेंगे. राउत ने आगे कहा, लेकिन हमें इसको देखना पड़ेगा. जो कुछ भी मैंने कहा उसको लेकर हमारे पास जानकारी थी और सुशांत के परिवार ने जो कुछ भी कहा उस बारे में उनके पास जानकारी थी.

वहीँ सुशांत के परिवार की तरफ से सजाय राउत को एक कानूनन नोटिस भी भेजी गयी है. सुशांत के चचेरे भाई और बीजेपी विधायक नीरज कुमार बबलू है जिनके वकील द्वारा ये नोटिस भेजी गयी है.