कोरोना वायरस के कारण पूरे फ्रांस में लगा दूसरा लाॅकडाउन

फ्रांस के राष्ट्रपति ने इमैनुएल मैक्रो ने कहा कि फ्रांस में कोरोना वायरस के दुसरी लहर का खतरा मंडरा है। विशेषज्ञों की मानें तो यह पहली लहर से भी ज्यादा खतरनाक है। इस खतरे को भांपते हुए पूरे देश में गुरुवार रात से ही राष्ट्रव्यापी लाॅकडाउन की घोषणा की गई है। फ्रांस में लगाया गया यह दूसरा लॉक डाउन है।

दूसरा लाॅकडाउन

Photo- Social Media

कैसा होगा दूसरा लाॅकडाउन

फ्रांस भी अपने पड़ोसी देशों की तरह इस महामारी की दूसरी मार चल रहा है। इसके चलते दूसरा लॉकडाउन पूरे देश में कम से कम एक दिसंबर तक रहेगा। इससे पहले फ्रांस में मार्च के मध्य में पहला लॉकडाउन किया गया था। हालांकि पहले लॉक डाउन की विपरीत इस लॉक डाउन की परिस्थिति में भी कड़े नियमों के साथ स्कूल खुलते रहेंगे।

Also Read – कोरोना से बचाव का उपकरण ही बना सेहत के लिए हानिकारक

क्यों है यह कदम बेहद ज़रूरी ?

फ्रांस में कोरोना वायरस से ठीक होने वाले लोगों की रिकवरी रेट बहुत ज्यादा कम होने के कारण लॉकडाउन लगाना बेहद जरूरी था। वहां पर केवल एक लाख लोगों में से पंद्रह हजार लोग ही रिकवर हो पाए हैं। फ्रांस में अभी करीब 11 लाख से ज्यादा लोगों का इलाज चल रहा है भारत की तुलना में यह रिकवरी रेट बहुत ही ज्यादा कम है।