छठ पूजा पर दिल्ली में नहीं बिकेगी शराब, एलजी ने 31 अक्टूबर को ड्राय डे की घोषणा की

दिल्ली के उपराज्यपाल वी.के. सक्सेना ने 30 अक्टूबर को रविवार को पड़ने वाली छठ पूजा को राजधानी में ‘ड्राय डे’ घोषित किया है। एलजी ने दिल्ली आबकारी अधिनियम, 2009 की धारा 2 (35) के अनुसार अपने अधिकार का प्रयोग करते हुए ‘ड्राय डे’ करने का निर्णय लिया है। यानी अब छठ के दिन दिल्ली में शराब की बिक्री पर रोक रहेगी ताकि त्योहार को शांतिपूर्वक मनाया जा सके और किसी तरह की बाधा ना आ सके। इससे पहले बीजेपी और कांग्रेस की तरफ से भी छठ पूजा पर ड्राई डे घोषित किए जाने की मांग की गई थी।

इस संबंध में बीजेपी सांसद मनोज तिवारी का बयान आया है। उन्होंने कहा कि पहली बार उपराज्यपाल दिल्ली ने रविवार (30 अक्टूबर) को राजधानी में छठ के मौके पर ड्राई डे घोषित किया है। एलजी ने दिल्ली आबकारी अधिनियम, 2009 की धारा 2 (35) के तहत अपने अधिकार का प्रयोग किया है। देशभर में छठ पूजा को लेकर उत्साह देखा जा रहा है। आज से नहाए-खाए के साथ पर्व की शुरुआत हो गई है। छठ पूजा 30 और 31 अक्टूबर को मनाई जाएगी। यह त्यौहार बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोगों के बीच बेहद लोकप्रिय है।

इस बीच, एलजी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखा है और छठ पूजा के लिए पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं। एलजी ने यमुना नदी में झाग पर चिंता जताई है और इसका समाधान करने के लिए कहा है। एलजी ने कहा है कि धार्मिक समारोह से पहले, दौरान और बाद में छठ पूजा घाटों पर साफ-सफाई सुनिश्चित करने की सरकार की जिम्मेदारी भी सर्वोपरि है। उपराज्यपाल ने खतरे के क्षेत्र को चिह्नित करने, किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए गहरे पानी की बैरिकेडिंग, पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था, गोताखोरों और बचाव नौकाओं को तैनात करने जैसे आवश्यक सुरक्षा उपायों के साथ-साथ यमुना घाट में फोम और प्रदूषण के मुद्दों को दूर करने के लिए भी कहा है।