टेरर फंडिंग मामले में एनआईए ने जम्मू-कश्मीर में कई जगहों पर की छापेमारी

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने बुधवार (15 जून) को जम्मू-कश्मीर में एक आतंकी फंडिंग मामले से जुड़े कई स्थानों पर छापेमारी की।
सेंट्रल एंटी टेरर एजेंसी ने जिन जगहों पर छापेमारी की है वो जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले में हैं।

एजेंसी के सूत्रों ने कहा कि छापे जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए नियंत्रण रेखा के पार व्यापार से उत्पन्न धन के दुरुपयोग के चल रहे एक मामले में शामिल होने वाले संदिग्धों के स्थानों से जुड़े हैं।

जम्मू-कश्मीर पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) समेत अन्य सुरक्षा बलों की मदद से संदिग्धों के आवासीय परिसरों की तलाशी ली जा रही है।

गौरतलब है कि 18 अप्रैल, 2019 को, भारत ने जम्मू और कश्मीर में नियंत्रण रेखा के साथ दो बिंदुओं पर क्रॉस-एलओसी व्यापार को अनिश्चित काल के लिए निलंबित कर दिया था, रिपोर्ट के बाद कि सीमा पार से नकली मुद्रा तत्वों द्वारा हथियारों, नशीले पदार्थों की तस्करी के लिए इसका “दुरुपयोग” किया जा रहा था।

जम्मू क्षेत्र के पुंछ जिले में चाकन-दा-बाग और उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले के सलामाबाद में एलओसी व्यापार का उद्देश्य जम्मू और कश्मीर और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में रहने वाले लोगों के लिए और नियंत्रण रेखा के पार एक विश्वास-निर्माण उपाय के रूप में था।