एक बार फिर सीमा पर मौजूद जवानों के साथ दीवाली मनाएंगे प्रधानमंत्री।

महामारी की ऐसी मुश्किल घड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर साल की तरह इस साल भी दिवाली जवानों के साथ मना सकते हैं। ऐसा अनुमान है कि वे इस बार जैसलमेर की सीमा पर दीप पर्व जवानों के साथ मनाएँगे।

Modi at border
Credits: The news now

जवानों को अपने हाथ से मिठाई खिलाते है मोदी जी!

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत तथा सेना प्रमुख एमएम नरवणे भी वहां पीएम मोदी के साथ मौजूद रह सकते हैं।प्रधानमंत्री ने पहले भी कई बार दिवाली का त्योहार देश के जवानों के साथ मनाया हैं। प्रधानमंत्री जवानों को इस मौके पर अपने हाथ से मिठाई खिलाते हैं और उनसे बात करते हैं। भारत और चीन के बीच तनाव के इस माहौल में अगर प्रधानमंत्री जवानों के साथ दिवाली मनाएंगे तो उनके मनोबल को बढ़ावा मिलेगा।

Also read:क्यों और कैसे मनाए छोटी दिवाली, क्या है इस त्यौहार की मान्यता, देखिए पूरी खबर!

पिछले साल राजौरी में मनाई थी!

पीएम मोदी जी ने 2019 में जम्मू—कश्मीर के राजौरी में नियंत्रण रेखा पर तैनात जवानों के साथ दीवाली मनाई थी। वहीं 2018 में उत्तराखंड सीमा पर तैनात जवानों के साथ इस पर्व का उत्सव मनाया गया था। 2017 में भी उन्होंने कश्मीर जाकर गुरेज सेक्टर पर तैनात जवानों के साथ दिवाली मनाई थी।

लेह लद्दाख गए मोदी जी!

कुछ दिन पहले पीएम अचानक ही सीमा पर चीन के साथ जारी तनाव के बीच लेह लद्दाख गए थे। वहां प्रधानमंत्री ने जवानों को संबोधित किया और उनको जोश से भर दिया। इस बार प्रधानमंत्री मोदी लोगों से अपील कर रहे हैं कि वे सावधानी बरतें और स्थानीय सामान को ही खरीदें। कोरोना संकट से खुद को बचाए।

Also read:भारत और चीन की तनातनी रोकनी की नई कोशिश, दोनो देशों के बीच हुई सहमती, रोज़ 30% सैनिक बुलाए जाएँगे वापस!