10 रूपये एक्स्ट्रा वसूलना रेस्टोरेंट को पड़ा भारी, भरना पड़ा 2 लाख का जुर्माना पढ़िए, पूरी खबर

आप जब भी किसी आइसक्रीम पार्लर, होटल या रेस्टोरेंट में जाते हैं तो आप से कई बार एक्स्ट्रा पैसे वसूले जाते हैं. एक्स्ट्रा चार्ज वसूले जाने के हजारों पीड़ित है लेकिन एक पीड़ित ऐसा था जिसने इस एक्स्ट्रा चार्ज के वसूले जाने को हल्के में नही लिया और फिर उसने जो एक्शन लिया वो रेस्टोरेंट मालिक पर किसी कहर से कम भी नही था.

दस रूपये अधिक वसूलने पर रेस्त्रां पर 2 लाख का जुर्माना 

दरअसल जानकारी के मुताबिक मुंबई सेंट्रल (Mumbai Central) स्थित शगुन वेज रेस्त्रां (Shagun Veg Restaurant) ने पुलिस सब इंस्पेक्टर भास्कर जाधव  से 6 साल पहले एक आइसक्रीम के पैकेट पर 10 रुपये ज्यादा वसूला था. रेस्तरा ने जाधव से आइसक्रीम के एक फैमिली पैक के लिए 165 रुपये की जगह 175 रुपये चार्ज किया था. इसके बाद साल 2015 में जाधव ने दक्षिण मुंबई जिला उपभोक्ता विवाद निवारण फोरम इसकी शिकायत दर्ज करवाई.

जाधव की शिकायत पर जिला फोरम का फैसला 

जाधव ने अपनी शिकायत में कहा, ‘वह 8 जून 2014 की रात को डीबी मार्ग पुलिस स्टेशन से घर जा रहे थे. इस दौरान वह रेस्त्रां में रुके और परिवार के लिए आइसक्रीम खरीदी.’ जाधव ने बताया कि उन्हें एक ही कीमत में 2 फैमिली पैक मिले हैं, लेकिन 10 रुपये अतिरिक्त चार्ज देखकर वह चौंक गए. फोरम में अपना पक्ष रखते हुए जाधव ने कहा, 10 रुपये एक्स्ट्रा चार्ज करने मुद्दे पर मैंने रेस्त्रां में विरोध किया, लेकिन वहां किसी ने उनकी बात नहीं सुनी. उन्होंने कहा कि उन्होंने काउंटर से आइसक्रीम खरीदी थी और रेस्त्रां में इंट्री भी नहीं की थी.

इसी मुद्दे पर गुरूवार को जिला फोरम ने अपना फैसला सुनाया है. फैसला सुनाते हुए जिला फोरम ने कहा कि रेस्त्रां 24 सालों से हर रोज करीब 40 से 50 हजार रुपये कमा रहा है. ऐसे में साफ है कि उन्होंने एमआरपी से अधिक चार्ज करके लाभ कमाया है. जिला फोरम ने 2 लाख रुपये अतिरिक्त जमा करने का आदेश देते हुए कहा कि रेस्त्रां और दुकानों की ओर से इस तरह से धोखाधड़ी और बेईमानी करके कारोबार करना उचित नहीं है