मंकीपॉक्स वायरस: स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्या करें और क्या न करें की सूची जारी की

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को वायरल मंकीपॉक्स बीमारी के बारे में क्या करें और क्या न करें की एक सूची प्रकाशित की, जिसके एक दिन बाद भारत के कुल सत्यापित मंकीपॉक्स के मामले बढ़कर आठ हो गए, जिसमें दिल्ली और केरल में एक-एक मरीज पाए गए।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक ट्वीट में कहा,“#मंकीपॉक्स से खुद को बचाएं। जानिए इस बीमारी से बचने के लिए आपको क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए। अधिक जानकारी के लिए, https://main.mohfw.gov.in/diseasealerts-0 पर जाएं। ”

क्या करें-

– मंकीपॉक्स के मरीज को अन्य लोगों से अलग रखें
– हाथों को साबुन से अच्छी तरह साफ करें
– हैंड सैनेटाइजर का इस्तेमाल करें
– आसपास किसी संक्रमित व्यक्ति के होने पर मास्क व ग्लव्ज पहनें

क्या न करें-

– मंकीपॉक्स संक्रमित के संपर्क में आए लोगों से दूरी बनाकर रखें. उनके साथ बिस्तर और तौलिया आदि शेयर न करें
– संक्रमित लोगों के कपड़ों को अन्य लोगों के कपड़ों के साथ न धोएं
– मंकीपॉक्स के लक्षण दिखने पर पब्लिक इवेंट्स व सार्वजनिक स्थानों पर जाने से बचें

विश्व स्तर पर, बड़ी संख्या में देशों से मंकीपॉक्स के हजारों मामले सामने आए हैं और कई मामलों में मौत भी इस वायरल जूनोटिक बीमारी के कारण बताई गई है।

केंद्र के “मंकीपॉक्स रोग के प्रबंधन पर दिशानिर्देश” के अनुसार, बड़ी श्वसन बूंदें – जिन्हें अक्सर लंबे समय तक निकट संपर्क की आवश्यकता होती है – मानव-से-मानव संचरण का मुख्य तंत्र हैं।