टिकटॉक के भारत मे प्रतिबंध को लेकर, ये क्या कह दिया ‘फेसबुक सीईओ’ मार्क जुकरबर्ग ने !

फेसबुक के सीईओ औऱ फाउंडर मार्क जुकरबर्ग ने भारत द्वारा चाइनीज ऐप टिकटॉक पर प्रतिबंध को लेकर बड़ी बात कही है. फेसबुक के टायकून मार्क जुकरबर्ग अपने कर्मचारियों से कहा है कि भारत सरकार द्वारा टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाना चिंता की बात है. दरअसल भारत ने जब से टिकटॉक सहित 59 चाइनीज ऐप पर प्रतिबंध लगाया है तब से ही यह विषय काफी चर्चा में बना हुआ है औऱ इसकी वजह है टिकटॉक का इस प्रतिबंध में शामिल होना. यूजर के मामले में टिकटॉक भारत में दूसरे स्थान पर है यहां इसके 200 मिलियन यूजर हैं.

मार्क जुकरबर्ग

बता दें कि लद्दाख सीमा पर चीन के साथ चले तनातनी के बीच भारत ने टिकटॉक सहित 59 चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया था. भारत ने कहा था कि इससे भारत की सुरक्षा से संबंधित बड़े दस्तावेज लीक हो सकते हैं.

टिकटॉक पर प्रतिबंध के बाद फेसबुक सीईओ मार्क जुकरबर्ग को सताने लगी अपनी चिंता

टिकटॉक के प्रतिबंधित होने के बाद भले ही भारत में फेसबुक के लिए बड़ा बाजार उपलब्ध हुआ हो लेकिन मार्क जुकरबर्ग इससे खुश नही हैं. उन्होंने भारत मे टिकटॉक के प्रतिबंध को लेकर चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि सरकार ने टिकटॉक को बंद करने का जो कारण बताया है वह सही नही है. बता दें कि टिकटॉक के तुरंत बाद फेसबुक के स्वामित्व वाली सोशल मीडिया जांयट  इंस्टाग्राम ने ‘रील’ नाम का ऐप लॉंच किया था. यह टिकटॉक की तरह ही काम करता है और इसके माध्यम से मार्क जुकरबर्ग भारत मे अच्छा बाजार बना सकते हैं लेकिन फिर भी उन्हें लगता है कि भारत ने टिकटॉक को प्रतिबंधित कर अच्छा नही किया है औऱ उन्हें फेसबुक की चिंता सताने लगी है.

मार्क जुकरबर्ग को लगता है कि अगर भारत 200 मिलियन यूजर बेस वाले सोशल मीडिया ऐप को बिना किसी परफेक्ट कारण के बंद कर सकता है तो वह किसी यूजर के सुरक्षा और निजी डाटा इधर-उधर होने पर फेसबुक को भी बंद कर सकता है.

पहले भी फेसबुक पर प्रतिबंध लगा चुका है भारत

फेसबुक का एक बड़ा यूजर बेस भारत मे है. हालांकि फेसबुक को अभी तक भारत मे कोई बड़ी समस्या नही हुई है लेकिन वह अपनी चिंता को लेकर सही भी हो सकता है. क्योंकि 2016 में भारत सरकार के अधीन काम करने वाले TRAI ने फेसबुक की फ्री बेसिक इंटरनेट सर्विस को बंद कर दिया था.

TRAI के अनुसार फ्री बेसिक इंटरनेट सर्विस को इस लिए बंद किया गया था क्योंकि इस इंटरनेट सर्विस के द्वारा अनचाहे यूजर को भी ऑनलाइन अनुमति मिल जाती है. और वह डाटा को आसानी से चुरा सकते हैं. इसके अलावा 2018 में कैम्ब्रिज एनालिटिका डाटा लीक मामले में भारत सरकार ने फेसबुक को नोटिस जारी किया था. जिसके बाद फेसबुक ने प्राइवेसी सेंटिंग्स में ब़ड़ा बदलाव किया था.

भारत में फेसबुक यूजर

4 फरवरी 2004 को शुरु हुए सोशल मीडिया साइट फेसबुक के भारत में करीब 26 करोड़ यूजर हैं. इस हिसाब से दुनिया भर में फेसबुक के सबसे ज्यादा यूजर भारत मे ही हैं. कुल यूजर की बात करें तो दुनिया भर मे फेसबुक के 250 करोड़ यूजर हैं. मतलब हर तीन में से एक शख्स फेसबुक यूज करता है. इसका मुख्यालय अमेरिका के केलीफोर्निया में हैं. मार्क जुकरबर्ग फेसबुक के सीईओ और फांउडर भी हैं.

बता दें कि लद्दाख सीमा पर चीनी सैनिकों से गतिरोध के बाद भारत ने टिकटॉक सहित 59 चाइनीज ऐप पर यह कहते हुए प्रतिबंध लगा दिया था कि यह ऐप भारत के एकता औऱ अखंडता को लेकऱ बड़ा खतरा हैं.