‘क्यों पड़े हो चक्कर में, कोई नहीं है टक्कर में’: प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रमंडल खेलों के लिए भारतीय दल को दिया सफलता का मंत्र

बुधवार को राष्ट्रमंडल खेल 2022 के लिए भारतीय टीम के साथ अपनी बातचीत में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे ‘क्यों पड़े हो चक्कर में, कोई नहीं है टक्कर में’ के मोटो के साथ प्रतिस्पर्धा करने का आग्रह किया।

प्रधानमंत्री ने प्रतियोगियों के साथ ऑनलाइन संवाद किया, मल्टीस्पोर्ट प्रतियोगिता में उन्हें शुभकामनाएं दीं और उनकी सफलता के लिए अपनी आशा व्यक्त की।

उन्होंने कहा,“आज का समय एक तरह से भारतीय खेलों के इतिहास का सबसे महत्वपूर्ण दौर है। आज आप जैसे खिलाड़ियों का जज्बा भी ऊंचा है, ट्रेनिंग भी बेहतर हो रही है और देश में खेलों के प्रति माहौल भी जबरदस्त है। आप सभी नई चोटियों पर चढ़ रहे हैं, नए शिखर बना रहे हैं। ”

राष्ट्रमंडल खेल 2022 में, 215 प्रतिभागी 19 विभिन्न खेलों में 141 स्पर्धाओं में भारत के लिए प्रतिस्पर्धा करेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा,“आज कई एथलीट पहले ही अन्य अंतरराष्ट्रीय खेल आयोजनों में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। लेकिन जो एथलीट अपने पहले एडवेंचर के लिए जा रहे हैं, मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं। 65 एथलीट जो पहली बार कॉमन वेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने जा रहे हैं, मुझे यकीन है कि खेल की दुनिया में एक अमिट छाप छोड़ेंगे।”

उन्होंने भारत में 28 जुलाई से शुरू होने वाले 44वें शतरंज ओलंपियाड पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि यह आयोजन भारतीय खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने का अवसर प्रदान करेगा। “आज, जैसा कि आप में से बहुत से लोग जानते हैं कि शतरंज ओलंपियाड की भी शुरुआत हो रही है। अगले 10 दिनों में हम कई भारतीय एथलीटों को चमकते हुए देखेंगे।” 2022 राष्ट्रमंडल खेल 28 जुलाई से 8 अगस्त, 2022 तक यूनाइटेड किंगडम के बर्मिंघम में आयोजित किए जाएंगे।