झारखंड हाई कोर्ट ने बिगड़ती कानून व्यवस्था पर राज्य सरकार को लगाई फटकार

रांची (झारखंड): झारखंड उच्च न्यायालय ने बुधवार को बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर हेमंत सोरेन की सरकार को फटकार लगाई और देवघर अदालत के परिसर में एक अपराधी की हत्या पर राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी।

मुख्य न्यायाधीश डॉ रवि रंजन और न्यायमूर्ति सुजीत नारायण प्रसाद की खंडपीठ ने अदालत परिसर में एक अपराधी की हत्या पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश, देवघर के एक पत्र का स्वत: संज्ञान लेते हुए कहा कि कानून और व्यवस्था की स्थिति खराब है। राज्य में स्थिति बिगड़ रही है और मामले पर राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है।

उच्च न्यायालय ने देवघर सिविल कोर्ट परिसर के सुरक्षा ऑडिट का भी निर्देश दिया ताकि इसके परिसर में हुई चूक का आकलन किया जा सके जिसके कारण गोलीबारी हुई और हत्या हुई।

इसने देवघर के न्यायालय परिसर में एक अपराधी की हत्या के संबंध में जिला एवं सत्र न्यायाधीश, देवघर के पत्र का संज्ञान लिया और पत्र को एक जनहित याचिका (PIL) माना।

कोर्ट ने अपने मौखिक अवलोकन में कहा कि इस तरह की घटनाएं नियमित रूप से हो रही हैं।

अदालत ने कहा कि यह पहली बार नहीं है जब अदालत परिसर में इस तरह की घटना हुई है। ऐसी घटनाएं नियमित रूप से हो रही हैं।

अपराधी अमित सिंह की इसी साल 18 जून को देवघर कोर्ट परिसर में हत्या कर दी गई थी, जहां उसे अपने खिलाफ एक मामले में पेश होना था।