यूपी पुलिस की इस वायरल फोटो को देखकर आईपीएस बोले, कसम से आपको फ़िल्में ज्वाइन कर लेनी चाहिए

उत्तर प्रदेश की पुलिस इन दिनों काफी चर्चा में है. कभी एनकाउंटर को लेकर तो कभी अपराधियों पर कार्रवाई को लेकर.. कानपुर में बरती गयी लापरवाही, फिर एक के बाद एक अपहरण की घटनाओं ने पुलिस पर सवाल खड़ा करने में कोई कसर नही छोड़ी. इन दिनों एक तस्वीर सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है. जिसमें एक पुलिस का जवान एक अपराधी को पीछे से पकड़ कर खड़ा है.

वायरल तस्वीर पर नवनीत सिकेरा ने लिए मजे 

ये तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई है. हालाँकि अभी तक ये पता नही चल पाया है कि आखिरकार ये तस्वीर कहाँ की है? लेकिन इतना तो पता चला है कि ये तस्वीर उत्तर प्रदेश की है और जवान के बाहों की गिरफ्त में खड़ा शख्स एक अपराधी है. इस तस्वीर को शेयर करते हुए लोग खूब मजे ले रहे हैं. सिर्फ आम लोग ही नही बल्कि पुलिस अधिकारी भी इस तस्वीर को शेयर करते हुए मजे ले रहे हैं. आप नवनीत सिकेरा को तो जानते ही होंगे, उत्तर प्रदेश पुलिस के जाने माने अधिकारी है.

“इतना शौक है तो फ़िल्में में ट्राई क्यों नही करते?”

नवनीत सिकेरा ने इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा कि स्टंट करने का इतना ही शौक था तो फिल्मों में ट्राई मार लेते , कसम से रेम्बो की याद दिला दी. नवनीत सिकेरा ने जब इस फोटो को शेयर किया तो लोग भी मजे लेंगे. तरह के कमेन्ट करने लगे, लोगों ने क्या कहा वो हम आपको आगे बतायेंगे लेकिन उससे पहले आपको इस तस्वीर के बारे में थोड़ी जानकारी दे देते हैं. मिली जानकारी के मुताबिक़ यह हमीरपुर जिले की फोटो है. बताया जा रहा है कि दारोगा ने जिस बदमाश को पकड़ा है वह हिस्ट्रीशीटर है और उसने अपने चाचा पर फायरिंग की थी. यह घटना थाना राठ क्षेत्र अंतर्गत हुई.

हालाँकि दरोगा जी ने जिस तरफ से अपराधी को पकड़ा है उसे देखकर लोग खूब मजे रहे हैं. कोई कहा रहा है कि ये भोजपुरी फिल्मों के दरोगा लग रहे हैं तो किसी ने कहा कि दरोगा जी को फिर से ट्रेनिंग की जरूरत है. इतना ही नही एक व्यक्ति ने ये तक कह दिया कि इतना काहे चिपक रहे हो भाई कोरोना चल रहा है.

अनुज यादव नाम के यूजर ने कहा कि अरे बॉस ,हम तो दरोगा जी के अदम्य साहस और कैमरामैन की निष्ठा की सराहना करते हैं , अच्छा एक बात और इन्हीं लोगों के नेक काम की वजह से आए दिन पिस्तौल छिनने के मामले सामने आते रहते हैं

राकेश शर्मा नाम के व्यक्ति ने लिखा कि हर शख्स में एक कलाकार छुपा होता है ,,, सिंघम बनना सबको अच्छा लगता है ,,, फिर तो इन दरोगा जी के पास असल वर्दी है ,, तो असल हक़ इन्ही का है ,,,अजय देवगन साब तो सिर्फ किरदार निभा रहे थे,,,

भरत चौधरी ने कहा कि सर जी की ना टोपी गिरी ना चश्मा गिरा और अपराधी को पकड़ भी लिया वह भी कट्टे के साथ . Salute sir

इस तरह लोगों ने इस तस्वीर के वायरल होने के बाद अपनी प्रतिक्रिया दी है. जैसे ही इस तस्वीर के बारे में हमारे पास अधिक जानकारी आएगी हम आपको पूरी कहानी बताने की कोशिश करेंगे.