आईपीएल पर एक और आर्थिक संकट, वीवो के हटने के बाद अब इस ग्रुप ने खींचे अपने हाथ

इंडियन प्रीमियम क्रिकेट लीग -2020 इस बार दुबई में होने जा रहा है. इसके लिए सभी 8 टीमें दुबई पहुंच चुकी हैं. इस बीच इसके शुरु होने से पहले ही एक बार फिर बुरी खबर आ गई है. मुख्य प्रायोजक के लिए संघर्ष करने के बाद अब बीसीसीआई के सामने दूसरी दिक्कत आ गई है. आईपीएल एसोसिएट सेंट्रल स्पॉन्सरशिप से अब फ्यूचर ग्रुप ने भी अपने हाथ खींच लिए हैं. बता दें कि चाइनीज कंपनी वीवो के मुख्य प्रायोजक के तौर पर हटने के बाद बोर्ड को बड़ी मुश्किल से ड्रीम-11 मुख्य प्रायोजक के तौर पर मिली थी जिसने 222 करोड़ की बोली लगा कर यह अधिकार हासिल किए थे.

Photo Source-static.langimg.com

वीवो के बाद अब फ्यूचर ग्रुप ने आईपीएल से हाथ खीचें

चाइनीज कंपनी वीवो के आईपीएल के मुख्य प्रायोजक के तौर पर हटने के बाद बीसीसीआई की समस्या खत्म होती दिख रही थी लेकिन अब एक नई मुसीबत आ गई है. एसोशिएट स्पॉन्सर फ्यूचर ग्रुप लीग से अपना संबंध खत्म करने का फैसला लिया है. आईपीएल की आधिकारिक वेबसाइट ने भी फ्यूचर ग्रुप का नाम एसोसिएट स्पॉन्सर लिस्ट से हटा दिया है. अब बीसीसीआई फ्यूचर ग्रुप की जगह किसी नए स्पॉन्सर की तलाश मे लग गया है. बता दें कि फ्यूचर ग्रुप पिछले 5 सालों से आईपीएल से जुड़ा हुआ था.

टाइटल स्पॉन्सर का अधिकार ड्रीम-11 को मिला था

देश में चीन विरोधी माहौल के बीच वीवो इंडिया ने आईपीएल के टाइटल स्पॉन्सर से पीछे हटने का फैसला किया था. इसके बाद बीसीसीआई द्वारा आयोजित नीलामी में ड्रीम-11 को इस साल के टाइटल स्पॉन्सर के तौर पर चुना गया था. ड्रीम-11 ने 222 करोड़ रुपये की बोली लगा कर यह अधिकार खरीदे थे.