उदयपुर हत्याकांड में आतंकी हमले के नजरिये से होगी जांच, एनआईए की टीम आज करेगी कातिलों से पूछताछ

राजस्थान के उदयुपर में मुस्लिमों द्वारा मारे गए दर्जी कन्हैयालाल की हत्या को केंद्र सरकार आतंकवादी हमले के नजरिये से देख रही है। इस मामले की जांच के लिए एनआईए की एक टीम मंगलवार रात को उदयपुर में लिए रवाना हो गई थी। गौरतलब है कि हिन्दू दर्जी कन्हैयालाल की हत्या पूर्व बीजेपी नेता नुपुर शर्मा द्वारा की गई कथित विवादित टिप्पणी का समर्थन करने पर की गई है।

जांच एजेंसी के एक अधिकारी ने बताया कि कन्हैयालाल की हत्या एक आतंकी हमले की तरह लग रही है। हत्या का लाइव वीडियो बनाया गया। इसके अलावा एक और वीडियो बनाया गया है। जिसमें दोनों आरोपी दावा कर रहे है कि इस्लाम का अपमान करने के बदले दर्जी कन्हैलाल की हत्या की है। साथ ही उन्होंने एक वीडिया जारी कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी जान से मारने की धमकी दी है। इस सभी कारणों से इस हत्या को आतंकी हमले की नजरिए से भी देखा जा रहा है।

 

जानकारी के अनुसार बुधवार सुबह उदयपुर पहुंचकर एनआईए की टीम पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपी गोस मोहम्मद पुत्र रफीक मोहम्मद और रियाज पुत्र अब्दुल जब्बार से पूछताछ करेगी। इस दौरान अगर कोई संदिग्ध बात सामने आती है तो दोनों के खिलाफ आतंकवाद विरोधी कानून के तहत केस दर्ज किया जाएगा। साथ ही जांच के लिए दोनों आरोपियों को एनआईए की टीम के हवाले कर दिया जाएगा।