उदयपुर में दिन दिहाड़े 2 मुस्लिमों ने “गुस्ताख-ए-नबी की एक ही सज़ा सर तन से जुदा…” कहते हुए एक हिन्दू दर्जी का सिर किया कलम

राजस्थान के उदयपुर के एक हिन्दू दर्जी कन्हैया लाल तेली का दिन दहाड़े उदयपुर में दो मुस्लिम युवकों ने सिर कलम कर दिया।

सूत्रों के मुताबिक कन्हैया लाल का आठ साल के बेटे ने पूर्व बीजेपी नेता नुपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट किया था। 17 जून को रिकॉर्ड किए गए एक वीडियो में, मुस्लिम युवकों में से एक को नूपुर शर्मा का समर्थन करने वाले को जान से मारने की धमकी देते हुए सुना व् देखा जा सकता है।

सोशल मीडिया पर मंगलवार को सामने आए एक वीडियो में दो मुस्लिम युवक उदयपुर में दर्जी के पास पहुंचे और उस पर चाकुओं से हमला कर दिया। उनके द्वारा अपलोड किए गए एक अन्य वीडियो में हत्या की बात कबूल करते हुए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धमकी देते हुए सुना जा सकता है।

अमानवीय हत्या की घटना के विरोध में आसपास के इलाकों में प्रदर्शन हुए, जिससे पुलिस बलों की तैनाती और व्यवसायों को बंद करने के लिए मजबूर होना पड़ा। इस बीच, इलाके में अगले 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं।

पुलिस के मुताबिक, उन्होंने संदिग्ध हत्यारों का पता लगा लिया है और उनकी तलाश की जा रही है। उदयपुर पुलिस अधीक्षक ने कहा, “एक जघन्य हत्या की गई है और घटना की गहन जांच की जाएगी। आरोपियों की पहचान हो गई है। आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस टीमों का गठन किया गया है। हम वीडियो में दिख रहे कातिलों पर कार्रवाई करेंगे।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस भयानक हत्या की निंदा की और जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन किया। उन्होंने सभी को शांति बनाए रखने की सलाह भी दी।

भाजपा ने इस घटना पर राजस्थान सरकार को घेरते हुए कड़ी प्रतिक्रिया दी है।