ब्रिटिश गवर्नर जनरल ने बसाया था हिमाचल के इस खूबसूरत शहर को.. जानिए क्या है खासियत!

कहा जाता है कि भारत का स्वर्ग अगर कहीं है तो वह है कश्मीर या फिर हिमाचल प्रदेश. हिमाचल प्रदेश अपने यहां स्थित प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है. यहां के घुमावदार पहाड़, नदियां, चीड़ और देवदार के वृक्ष अनायास ही पर्यटकों का मन मोह लेती हैं. हिमाचल के ही चंबा में स्थित एक खूबसूरत शहर है डलहौजी. इस शहर को अंग्रेज गवर्नर जनरल लार्ड डलहौजी ने बसाया था. डलहौजी हिमाचल का मुख्य हिल स्टेशन औऱ टूरिस्ट स्पॉट भी है.

Photo-amarujala.com

डलहौजी को अंग्रेज गवर्नर जनरल ने बसाया था

डलहौजी शहर को चंबा में स्थित 5 पहाडियों कैथलॉग, पोट्रेस, तेहरा, बकरोटा औऱ बोलुन से अलग बसाया गया था. इस हिल स्टेशन को 1854 में ब्रिटिश गवर्नर जनरल डलहौजी ने बसाया था. डलहौजी शहर चीड़, देवदार, ओक्स औऱ सुंदर ग्रूव के फूलों से हमेशा सुसज्जित रहता है. इसके अलावा चंबा घाटी और बर्फ से ढंके धौलाधार पर्वत की चोटियां शहर की खूबसूरती में चार चांद लगाती हैं.

यह भी पढ़ें-  हवाई सफर में अगर नहीं लगाया मास्क, लग जाएगा बैन 

डलहौजी में देखने लायक जगह

डलहौजी हिमाचल का मुख्य टूरिस्ट स्पॉट हैं. शहर से 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित डायन कुंड पर व्यास, रावी और चिनाब नदियों का विहंगम दृश्य देखने को मिलता है. डलहौजी से 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कालाटोप में छोटी से वाइल्ड लाइफ सेंचुरी है. यहां जंगली जानवरों के खूबसूरत नजारे देखने को मिलते हैं. इसके अलावा डलहौजी मौसम के बदलाव के लिए जाना जाता है. यहां के ब्रिटिश कालीन बोर्डिंग स्कूल भी देखने लायक हैं.

डलहौजी कैसे पहुंचे

डलहौजी हिल स्टेशन पहुंचने के लिए कांगड़ा में स्थित गग्गल हवाई अड्डा सबसे निकटतम हवाई अड्डा है. इसके अलावा चंडीगढ़, अमृतसर और जम्मू पहुंच कर यहां से बाकी का सफर टैक्सी से तय किया जा सकता है. इन हवाई अड्डों से डलहौजी की दूरी लगभग 200 किलोमीटर होती है. डलहौजी का सबसे निकटतम रेल स्टेशन पठानकोट है. यह शहर से 80 किलोमीटर दूर स्थित है.

यह भी पढ़ें-  भारतीय रेल कर रहा विश्‍व के सबसे ऊंचे रेलवे पुल का निर्माण