अब इस प्रदेश में युवाओं को मिलेगा प्राइवेट कंपनियों में 75% आरक्षण, राज्यपाल ने बिल को दी मंजूरी

19

रोजगार की समस्या आज के समय में काफी बड़ी परेशानी मानी जा रही है। ऐसे में केंद्र और राज्य सरकारें इसका तोड़ निकालने की कोशिश में हैं कि कैसे युवाओं को अधिक से अधिक रोजगार के मौके दिए जाएं। बता दें कि इसी के तहत अब हरियाणा में युवाओं को निजी कंपनियों में 75% आरक्षण मिलेगा। मतलब ये हुआ कि, अब हरियाणा मे 75% प्राइवेट नौकरियां इसी राज्य के युवाओं के लिए होंगी। बता दें कि इस बिल को हरियाणा राज्यपाल की मंजूरी भी मिल गई है। 2 मार्च हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने अपने ट्वीट में बताया कि, राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य (Satyadev Narayan Arya) ने मंगलवार को इस अहम विधेयक को मंजूरी प्रदान कर दी।

LTC स्‍कीम

गौरतलब है कि अब इस राज्य की हर कंपनी, सोसाइटी और ट्रस्ट में युवाओं को 75 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा। यह जानकारी उपमुख्यमंत्री Dushyant Chautala ने दी। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि, राज्य के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने कहा कि प्रदेश के युवाओं के लिए आज खुशी का दिन है। प्राइवेट नौकरियों में अब प्रदेश के युवाओं को 75 प्रतिशत नौकरियों का अधिकार मिलेगा।

प्रदेश के मुख्यमंत्री (Manohar Lal Khattar) ने कहा कि राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने निजी नौकरियों में 75% आरक्षण की अनुमति देने वाले विधेयक को मंजूरी दे दी है। सरकार जल्द ही इसे अधिसूचित करेगी।

गौरतलब है कि, बीते साल नवंबर में हरियाणा विधान सभा (Haryana Assembly) ने प्राइवेट सेक्टर की नौकरियों में राज्य के युवाओं के लिए 75 प्रतिशत आरक्षण के प्रावधान को मंजूरी दी थी। इससे हरियाणा राज्य के स्थानीय उम्मीदवारों को रोजगार विधेयक, 2020 में निजी क्षेत्र की ऐसी नौकरियों में स्थानीय लोगों के लिए 75 प्रतिशत आरक्षण प्रदान करता है जिनमें वेतन प्रति माह 50,000 रुपये से कम है।