अगर आप स्ट्रीम करते है नेटफ्लिक्स और ऐमोजोन प्राइम विडियोज के शो तो ये खबर आपके बड़े काम की है

नेटफ्लिक्स , एमेजोन प्राइम विडियो , सोनी लिव और हॉटस्टार जैसे प्लेटफॉर्म अब सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा स्वचलित किए जाएंगे । इसमे ऑनलाइन एंटरटेनमेंट एप्स के अलावा न्यूज पोर्टल्स को भी शामिल किया गया है । भारत के राष्ट्रपति ने इस बात पर मुहर लगाते हुए इस बात की पुष्टि की  । मतलब अब दजो भी ऑलनलाइन कंटेट आएगा वो सूचना एवं प्रसारण मंत्रलालय की निगरानी मे होगा

सूचना
Indian Express

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा लिया गया फैसला

आज के दिन याने बुधवार को  सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने बड़ा फैसला लेते हुए ओटीटी प्लेटफॉम्स को अपने द्वारा चलाने का निर्णय लिया है इसका मतलब ये है कि अब जो भी ऑनलाइन प्लेटफार्म पर विडियो आएंगी , न्यूज पोर्टल पर जो खबरे चलाई जाएंगी या फिर विडियोज बनाई जाएंगी वो सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अंडर आएंगी ।

आखिर क्यो लिया गया ये फैसला

इससे पहले किसी भी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के लिए किसी भी तरह का सरकारी कानून नही बनाया गया था । ऐसे मे सवाल ये उठता है कि आखिर क्यो सरकार को ये बड़ा फैसला  लेना पड़ा । क्या इनमे से एक कारण ये हो सकता है कि सरकार एमजोन और नेटफ्लिक्स पर आने वाले शोज जिनमे खूब गांलिया दी जाती हे उनपर रोक लगाना चाहती है । जो सोफ्ट पोर्न ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर दिखाया जाता है उनके खिलाफ रोक लगाना चाहती है क्योकि इससे पहले सरकार पॉर्न वेबसाइट पर रोक लगा ही चुकी है । ऐसे मे सरकार का ये फैसला ऑनलाइन प्लेफॉर्म के लिए काफी अहम हो सकता है ।

वही ऑनलाइन न्यूज पोर्टल जो अब तक सरकार के दायरे मे नही आते थे स्वतंत्रता से अपनी खबरे चलाते थे अब वो भी सरकार के अंडर काम करेंगी । एक तो पहेली ही सरकार पर निजी टीवी चैनलो पर अपना नियंत्रण जमाने का आरोप लग चुका है ऐसे मे सरकार का ये फैसला क्या रुख अपनाता है देखना दिलचस्प होगा

Also Read – क्या आप ऐसा समाज चाहते है.. दिलिप जोशी ने ओटीटी प्लेफार्म को लेकर उठाए ये गंभीर सवाल

कुछ दिन पहले ही दिलीप जोशी आका जेठालाल ने ओटीटी प्लेफॉर्म को लेकर उठाए थे सवाल

सूचना
Indian Express

कुछ दिन पहले ही टीवी दुनिया के मशहूर कलाकार दिलीप जोशी ने ओटीटी प्लेटफार्म पर काफी सारे सवाल उठाए थे उन्होने कहा था कि जो भाषा ओटीटी इस्तेमाल की जाती है क्या हम वैसा ही समाज चाहते है । क्या हम जिस तरह की चीजे लोगो के सामने परोस रहे है ये ठीक है इतना ही नही उन्होने ये भी कह दिया कि जो भाषा ओटीटी प्लेफार्म मे इस्तेमाल होती है क्या वैसे ही आप अपने मम्मी पापा से बात करते हो ।