महाराष्ट्र सियासी संकट के बीच संजय राउत के घर के बाहर नाटकीय पोस्टर ”हमारी बादशाही विरासत में मिली है”

महाराष्ट्र में जारी राजनीतिक उठापटक के बीच बुधवार को शिवसेना नेता संजय राउत के मुंबई स्थित आवास के बाहर एक बैनर देखा गया। बैनर में लिखा है, “तेरा घमंड चार दिन का है पगले, हमारा बादशाही विरासत में मिली है।”

समाचार एजेंसी एएनआई ने ट्वीट किया।” मुंबई में शिवसेना नेता संजय राउत के आवास के बाहर एक बैनर, ‘तेरा घमंड चार दिन का है पगले, हमारा बादशाही विरासत में मिली है।’ लिखा हुआ है। बैनर को शिवसेना की पार्षद दीपमाला बढ़े ने लगाया है।”,
यह सब ऐसे समय में हुआ है जब महाराष्ट्र सरकार राजनीतिक संकट का सामना कर रही है। शिवसेना के वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री एकनाथ शिंदे के साथ शिवसेना के 34 अन्य विधायकों के भाजपा में शामिल होने की संभावना है।

शिवसेना के सांसद संजय राउत ने बुधवार को यह कहकर विद्रोह को नकार दिया कि पार्टी एकनाथ शिंदे के संपर्क में है।

संजय राउत ने कहा,“शिवसेना में राख से उठने की क्षमता है। शिंदे एक पुराने शिव सैनिक हैं। हम शिंदे को नहीं छोड़ सकते और वह हमें नहीं छोड़ सकते।”

उन्होंने कहा, “न तो एकनाथ शिंदे के लिए और न ही हमारे लिए पार्टी छोड़ना या उन्हें छोड़ना आसान है।”

सूत्रों के अनुसार, एकनाथ शिंदे को 40 अन्य विधायकों के साथ गुवाहाटी, असम ले जाया गया है।