यूपी में गुंडाराज! मुख्यमंत्री आवास से नजदीक वीआईपी इलाके में रेलवे अधिकारी की पत्नी-बेटे की सरेआम हत्या

उत्तर प्रदेश में अपराधी बेलगाम हो गये हैं और पुलिस पस्त! एक जगह की अपराधिक घटना का खुलासा नही हो पाता की दूरी घटना हो जाती है, इन घटनाओं को देखकर तो ऐसा लगता है जैसे उत्तर प्रदेश में एक बार फिर से गुंडाराज वापस आ गया हो और अपराधी पुलिस प्रशासन को चुनौती दे रहे हैं. ताजा मामला उत्तर प्रदेश की राजधानी का है, जहाँ मुख्यमंत्री आवास से बेहद नजदीक, वीआईपी इलाके में एक अधिकारी के बेटे और पत्नी की हत्या कर दी गयी.

दिन दहाड़े वीआईपी इलाके में बदमाशों ने कर दी हत्या 

दरअसल गौतमपल्ली इलाके में रेलवे अधिकारी आरडी बाजपेयी के सरकारी आवास है. शनिवार दोपहर के बदमाश उनके आवास पर पहुंच गए और घर में घुसकर मालती और बेटे शारददत्त की हत्या कर दी गई. दोपहर 3:30 बजे करीब नौकरों ने पुलिस कंट्रोल रूम पर सूचना दी जिसके बाद गौतम पल्ली पुलिस मौके पर पहुंची. वहीँ बड़े अधिकारी के घर में हुई इस घटना के बाद डीजीपी और कमिश्नर मौके पर पहुंचे हैं.

हत्या के बाद क्या कह रहे हैं पुलिस कमिशनर?

पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय के मुताबिक मामले में हर पहलू पर जांच की जा रही है. वारदात के पीछे जो कारण है उसका जल्द ही खुलासा किया जाएगा. दोषियों की जल्द गिरफ्तारी होगी. आपको बता दें कि जिस इलाके में रेलवे अधिकारी आरडी बाजपेई की पत्नी और बेटे की हत्या हुई वह राजधानी लखनऊ का वीवीआईपी इलाका मना जाता है. इस इलाके में पुलिस की विशेष नजर रहती है, मंत्री और विधायक के आवास वहीँ पर है और राजभवन की भी दूरी यहाँ ज्यादा दूर नही है.

इलाके में फ़ैल गयी दहशत 

ऐसे में वीआईपी इलाके में सरेआम बदमाश दिनदहाड़े घर में घुसकर दो लोगों की हत्या कर देते हैं तो पुलिस प्रशासन की पोल खुल जाती है. सवाल पुलिस से लेकर मुख्यमंत्री से पूछा जाना चाहिए कि आखिर वीआईपी इलाके में जब अपराधी बेखौप हैं तो बाकी प्रदेश के हालत का सिर्फ अंदाजा लगाया जा सकता है. वहीँ लखनऊ में हुई इस वारदात के बाद उलाके के लोग दहशत में हैं.