सामने आया धोनी का प्लान, संन्यास के बाद करेंगे ये काम?

भारतीय क्रिकेट का वो सितारा जिसने भारत को टी-20 विश्वकप, एकदिवसीय विश्वकप और चैंपियन्स ट्रॉफी लाकर दी, जिसके मैच फिनिश करने के सभी दीवाने है, ऐसे महेंद्र सिंह धोनी ने अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। धोनी के संन्यास के बाद अब लोगों के मन में सवाल उठ रहा है कि आखिर रिटायर होने के बाद क्या धोनी क्रिकेट से दूर हो जाएंगे, अगर दूर हो भी गए तो धोनी करेंगे क्या? ऐसे ही सवालों के जवाब सामने आ चुके हैं। ABP न्यूज की मानें तो धोनी अब कई क्षेत्रों में अपना कदम रख सकते हैं।

feature dhoniकिसानी के क्षेत्र में हाथ आजमाएंगे?

मिली जानकारी के मुताबिक धोनी का क्रिकेट से जुड़ाव खत्म नहीं होने वाला। इस साल के आईपीएल सीजन के अलावा वह अगले कुछ साल इस टूर्नामेंट का हिस्सा बने रहेंगे। वह साल में में 3 महीने इस टूर्नामेंट के लिए निकालेंगे। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि बाकी समय माही क्या करेंगे? ऐसे में इन सवालों के जवाब में जो जानकारी सामने आई है, उसके मुताबिक धोनी किसानी के क्षेत्र में हाथ आजमाएंगे। सूत्रों की माने तो धोनी ‘नियो ग्लोबल फ़र्टिलाइज़र’ नाम का एक नया ब्रांड बाजार में लाने जा रहे हैं। इसके लिए कई राज्य सरकारों के साथ भी धोनी की बातचीत चल रही है। इस ब्रांड के जरिए खेती से जुड़े जरूरी उपकरणों और अन्य उत्पादों को वह गांव-गांव में किसानों तक पहुंचाएंगे।

मुफ्त शिक्षा

इसके अलावा धोनी मुफ्त शिक्षा के क्षेत्र में भी काम करने जा रहे हैं। इसक साथ ही वह एमएस धोनी ग्लोबल स्कूल भी बना रहे हैं। इस स्कूल के जरिए वह देशभर के प्रतिभावान छात्र और छात्राओं को मुफ़्त शिक्षा भी देना चाहते है। इस स्कूल पर अभी काम जारी है। इतना ही नहीं, अपने सबसे बड़े जुनून यानी क्रिकेट को बढ़ावा देने और नई प्रतिभाओं को मौका देने के लिए एमएस धोनी क्रिकेट एकेडेमी भी अलग-अलग शहरों में चला रहे हैं। इस एकेडमी के जरिए धोनी छोटे शहरों से और भी बड़े खिलाड़ियों का टीम इंडिया तक पहुंचाने की योजना बना रहे हैं।

MS dhoni Retirement

 

क्रिकेट के भगवान ने कहा

बता दें कि धोनी की लोकप्रियता अपने आप में गजब की है। माना जाता है कि धोनी से सफल कप्तान भारतीय क्रिकेट के इतिहास में अभी तक नहीं हुआ है। मैदान पर उनकी रणनीति के कायल सिर्फ भारत में ही नहीं दूसरे देशों की टीमें भी हुई हैं। धोनी के संन्यास लेने पर क्रिकेट के भगवान माने जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने ट्वीट कर कहा कि, ट्वीट करते हुए लिखा, “भारतीय क्रिकेट में आपका योगदान बहुत बड़ा है धोनी। आपके साथ 2011 विश्व कप जीतना मेरे जीवन का सबसे अच्छा पल है। आपको और आपके परिवार को दूसरी पारी के लिए शुभकामनाएं।” बता दें कि सचिन का विश्व कप जीतने का सपना धोनी की कप्तानी में ही 2011 में पूरा हुआ था और सचिन ने इसलिए इस पल को अपना सबसे अच्छा पल बताया है।

sachin

बीसीसीआई ने कहा

धोनी के क्रिकेट से दूर जाने पर बीसीसीआई ने एक बयान में कहा, “भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से अपने संन्यास का ऐलान कर दिया। रांची के एक लड़के ने 2004 में वनडे पदार्पण किया था और फिर अपने शांत स्वाभाव, खेल की तेज समझ और अपनी नेतृत्व क्षमता से भारतीय क्रिकेट का चेहरा बदल दिया।”

सौरव गांगुली ने कहा

इसके अलावा बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा, यह एक युग का अंत है। वह विश्व क्रिकेट और भारत के लिए शानदार खिलाड़ी रहे हैं। उनकी नेतृत्वक्षमता कीबराबरी करना काफी मुश्किल है, खासकर छोटे प्रारूपों में।”