डीजीसीए ने सुरक्षा नियमों का उल्लंघन करने पर एयर विस्तारा पर लगाया 10 लाख रुपये का जुर्माना

डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन के नियामक ने गुरुवार को सुरक्षा नियमों का उल्लंघन करने पर एयर विस्तारा पर 10 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

डीजीसीए ने एयरलाइन पर बिना किसी ट्रेनिंग के पहले अधिकारियों को दिए गए टेकऑफ और लैंडिंग क्लीयरेंस के उल्लंघन के लिए जुर्माना लगाया है।

एयरलाइंस के फर्स्ट ऑफिसर को यात्रियों से भरे विमान को उतारने से पहले सिम्युलेटर पर पहला विमान उतारना होता है। इसके लिए प्रशिक्षण का आयोजन किया जाता है। कप्तान फर्स्ट ऑफिसर को उतरने का मौका देने से पहले सिम्युलेटर पर प्रशिक्षण भी लेता है।

लेकिन एयर विस्तारा के इस विमान को फर्स्ट ऑफिसर ने बिना कप्तान के और साथ ही सिम्युलेटर पर प्रशिक्षण के बिना उतारा था। यह हवाई यात्रियों की सुरक्षा के साथ बड़ा खिलवाड़ है और उनके जीवन को खतरे में डालने जैसा है।

मध्य प्रदेश के इंदौर में लैंडिंग के दौरान ऐसा ही एक चूक की जानकारी मिली थी, जिसके बाद डीजीसीए ने मामले की जांच-पड़ताल शुरु की।

 

इस बीच विमान पहले अधिकारी द्वारा बिना कप्तान या पहले अधिकारी के उतर रहा है जिसे सिम्युलेटर में प्रशिक्षित किया गया है और यह गंभीर उल्लंघन में आता है जो यात्रियों के जीवन को खतरे में डालता है। हालांकि इंदौर में लैंडिंग के दौरान चूक का पता चला।