बड़ी खबर : कोरोना को मात देने वाले केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह एक बार फिर एम्स मे भर्ती !

देश के गृहमंत्री अमित शाह को एक बार फिर देर रात एम्स में भर्ती कराया गया है. इससे पहले वह मेदांता अस्पताल में भर्ती थे औऱ कोरोना निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद उन्हें शुक्रवार को छुट्टी दे दी गई थी. उन्हें सांस लेने में हो रही दिक्कत के कारण रात के दो बजे एम्स लाया गया जहां एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया के अगुवाई में उनका इलाज किया जा रहा है. एम्स के मुताबिक उनकी हालत सामान्य है और स्थिर है. कहा जा रहा है कि अमित शाह अस्पताल से ही सरकार से संबंधित कामकाज देख रहे हैं.

गृहमंत्री अमित शाह

अमित शाह को एक बार फिर एम्स में भर्ती कराया गया है

गृहमंत्री अमित शाह पिछले कुछ दिनों में दूसरी बार अस्पताल में भर्ती किए गए हैं. उन्हें सांस लेने मे तकलीफ के काऱण देर रात एम्स में भर्ती कराया गया है. बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आने के बाद उन्हें गुरुग्राम के मेंदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इसके बाद उनका कोरोना वायरस जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद 14 अगस्त को उन्हें अस्पताल से डिस्जार्ज कर दिया गया था. उन्होंने खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी भी दी थी औऱ अब वह डॉक्टरों की सलाह पर स्वास्थ्य लाभ ले रहे थे.

एम्स निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया के नेतृत्व में हो रहा इलाज

केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह का एम्स के निदेशक डॉक्टर ऱणदीप गुलेरिया के नेतृत्व में इलाज चल रहा है औऱ अस्पताल की ओर से जारी बुलेटिन मे उनकी तबियत स्थिर बताई जा रही है. एम्स के डॉक्टरों की एक टीम उनकी हालत को लेकर निगरानी कर रही है.

एम्स, दिल्ली

14 अगस्त को ट्वीट कर कोरोना निगेटिव होने की जानकारी दी थी

मेंदाता अस्पताल में भर्ती अमित शाह कोरोना निगेटिव आने के बाद 14 अगस्त को ट्वीट कर अपने स्वास्थ्य के बारे में बताया था. उन्होंने कहा- आज यानि की शुक्रवार को मेरी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई है. मै ईश्वर का धन्यवाद करता हूं औऱ इस समय जिन लोगों ने मेरे स्वास्थ्य लाभ के लिए शुभकामानाएं देकर मेरा और मेरे परिजनों को ढांढ़स बंधाया उन सभी का ह्रदय से आभार व्यक्त करता हूं. डॉक्टरों की सलाह पर अभी कुछ औऱ दिनों तक होम आइसोलेशन में रहूंगा.

बता दें कि गुरुग्राम के मेदांता असपातल मे इस समय महंत नृत्यगोपाल दास भर्ती है. सर्जी औऱ जुकाम और बुखार होने के बाद उनकी जांच की गई थी. कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल लाया गया था. अस्पताल की वरिष्ठ फिजिशियन डॉं. सुशीला कटारिया की देखरेख मे उनका इलाज किया जा रहा है.