#Breaking: Delhi HC ने सुदर्शन टीवी के शो पर लगाई रोक

Delhi HC (हाई कोर्ट) ने हिंदी टीवी न्यूज़ चैनल सुदर्शन न्यूज़ पर सिविल सेवाओं में मुसलमानों के चयन पर सवाल उठाने वाले एक कार्यक्रम के प्रसारण पर रोक लगा दी है. जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्रों द्वारा दायर याचिका पर फैसला देते हुए यह रोक लगाई गई है.

Also Read: Intentionally not wearing a mask in flight will put you in ‘No-fly’ list

चैनल ने मंगलवार को एक टीज़र जारी किया था जिसमें चैनल के संपादक ने ये दावा किया था कि 28 अगस्त को प्रसारित होने वाले इस कार्यक्रम में ‘कार्यपालिका के सबसे बड़े पदों पर मुस्लिम घुसपैठ का पर्दाफ़ाश’ किया जाएगा. याचिकाकर्ताओं नें प्रसारण पर प्रतिबंध करने की मांग करते हुए कहा कि यह प्रसारण कथित तौर पर जामिया मिल्लिया इस्लामिया, इसके पूर्व छात्रों और मु‌स्लिम कम्युनिटी के खिलाफ नफरत फैलाने का एक पैंतरा है.

दरअसल चैनल के संपादक सुरेश चव्हाणके 28 अगस्त को रात 8 बजे नौकरशाही जिहाद नाम से एक कार्यक्रम का प्रसारण करने वाले थे जिसमें वो सरकारी नौकरियों में मुसलमानों की घुसपैठ और नौकरशाही जिहाद का पर्दाफाश करने वाले थे.

Also Read: Congress के नेताओं मे पड़ रही है आपसी फूट, जानिए क्या है पूरा मसला

टीज़र आने बाद से ही सोशल मीडिया पर इसे लेकर आलोचना शुरू हो गई थी. कई बडे़ अधिकारियों ने सुरेश चव्हाणके पर सांप्रदायिकता फैलाने का आरोह लगाया. विडियो का खंड़न करते हुए भारतीय पुलिस सेवा और आईपीएस एसोसिएशन के आधिकारिक ट्विटर हैन्डल से भी प्रतिक्रिया आई.