कट्टर देशभक्त बनाने की तैयारी में दिल्ली सरकार, किया ये बड़ा ऐलान 

17

इसमें कोई दो राय नहीं है कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने सरकारी स्कूलों की शिक्षा प्रणाली की गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाने के दावे किए हैं, किताबों में उलझे रहने से ज्यादा Practical Knowledge को ज्यादा तवज्जों दी गई है, दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कई बार अपने इंटरव्यू में कहा है कि हमनें Sweden और कई देशों की बेहतरीन शिक्षा प्रणाली को भारत में अपने हिसाब से लागू करने की कोशिश की है इसके बारे में सिसोदिया ने एक किताब भी लिखी है, वहीं अब इसी बीच दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल ने आज दिल्ली कैबिनेट की बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कई अहम ऐलान किये।

Delhi Board of School Education का होगा गठन

अरविंद केजरीवाल ने आज दिल्ली कैबिनेट की बैठक में दिल्ली के स्कूलों में दिल्ली का अपना शिक्षा बोर्ड बनाने की घोषणा की है वहीं प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जानकारी देते हुए केजरीवाल ने बताया ये बोर्ड अंतराष्ट्रीय स्तर के होंगे जिसमें इस साल 20-25 स्कूलों को इसमें शामिल किया जाएगा, वहीं अगले चार – पांच सालों में निजी स्कूल भी शामिल होने का मन बना लेंगे। 

इन तीन तीन बिंदुओं पर किया जाएगा काम 

केजरीवाल ने बताया कि ये बोर्ड तीन टारगेट पूरा करेगा जिसमें ऐसे बच्चे तैयार करना है जो कट्टर देशभक्त हों, आगे चलकर देश की जिम्मेवारी अपने कंधों पर उठा सके, और वह एक अच्छा इंसान बने जो खुद के पैरों में खड़ा हो सके।