आजमगढ़ में हंगामा : प्रधान की हत्या के बाद बेकाबू भीड़ ने फूंक दिया थाना

आजमगढ़ में प्रधान की हत्या के बाद जमकर बवाल बचा. तरवा थाना क्षेत्र के बांसगांव के ग्राम प्रधान की शुक्रवार देर शाम गोली मारकर हत्या कर दी गयी. इसके बाद छानबीन करने पहुंची पुलिस की गाड़ी से दबकर एक बच्चे की भी मौत की भी खबर है. इसके बाद तो भीड़ ने पुलिस चौकी समेत कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया है.

दरअसल ख़बरों की माने तो ग्राम प्रधान की हत्या के बाद ग्रामीण आक्रोशित थे. इस दौरान बवाल मच गया और इसी बवाल के बीच एक गाड़ी से दबकर एक बच्चे की मौत हो गयी. कुछ लोगों का कहना है कि बच्चे की मौत बवाल के बीच आई पुलिस की गाड़ी से हुई है. इसके बाद तो बवाल और मच गया. आगजनी होने लगी. भीड़ ने कई वाहनों को नुकसान पहुंचाया है. साथ ही तरवा थाने की बोगरिया पुलिस चौकी को भी आग के हवाले कर दिया है.

आक्रोशित भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग भी करनी पड़ी. वहीँ स्थिति को कंट्रोल से बाहर होते देख घटनास्थल पर भारी फ़ोर्स की तैनाती की गयी है. बताया जा रहा है कि बदमाशों के हैसले इतने बुलंद थे कि पहले उन्होंने ग्राम प्रधान को बुलाया फिर गोली मारी और इसके बाद प्रधान के घर पर गोलीबारी करते हुए भाग निकले.  ग्रामीणों का कहना है कि मनरेगा के तहत गांव में कुछ दिन पूर्व खोदवाए गए पोखरे को लेकर ग्राम प्रधान का कुछ लोगों से विवाद चल रहा था. शुक्रवार की शाम लगभग पांच बजे गांव के ही एक व्यक्ति ने किसी को भेजकर ग्राम प्रधान को गांव के श्रीकृष्ण पीजी कालेज के पीछे स्थित पोखरे पर बुलाया. वह जब पोखरे पर पहुंचे तो हमलावरों ने उन्हें गोलियों से छलनी कर दिया.

हालाँकि मिली जानकारी के मुताबिक घटनास्थल पर भारी संख्या में फ़ोर्स की तैनाती की गयी है स्थिति को नियंत्रित करने की कोशिश की जा रही है. वैसे कई दिनों से शांत पड़ा उत्तर प्रदेश इस घटना के बाद अचानक फिर सुर्ख़ियों में हैं.