पैंगोग झील पर भारतीय सेना के कब्जे के बाद बौखलाए चीन ने 24 घंटे मे दे डाले इतने बयान कि..

लद्दाख के पैंगोग झील के पास भारतीय सैनिकों के कब्जे के बाद बौखलाए चीन ने 24 घंटे में ही 5 बयान जारी कर दिए हैं. मीडिया में इस घटना के जारी होने के बाद से अब तक 2 बयान चीन के विदेश मंत्रालय, 1 बयान चीनी सेना, 1 बयान चीनी विदेश मंत्री और 1 बयान भारत स्थित चीनी दूतावास ने दिया है. इन बयानों से अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस घटना से चीन कितने दहशत में है. बता दें कि लद्दाख के पैंगोग इलाके में 29-30 अगस्त को एक बार फिर भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प हुई थी जिसके बाद भारतीय सैनिकों ने इस इलाके में कब्जा जमाने में कामयाब रहे थे.

पैगोंग लेक विवाद
Photo-jantak.com

चीनी विदेश मंत्रालय ने दो बार जारी किया बयान

इस मामले पर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजिन ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि चीन के सैनिक हमेशा कड़ाई से वास्तविक नियंत्रण रेखा का पालन करते हैं. वे कभी भी LAC को पार नही करते हैं. उन्होंने कहा कि दोनों तरफ की सेनाएं वहां की स्थिति को लेकर बातचीत कर रही हैं.

चीन के विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को फिर कहा कि यथास्थिति बनाए रखने के लिए भारतीय सेना को पीछे लौटना होगा. सीमा विवाद को दोनों पक्षों की बीच बातचीत के जरिए सुलझाया जा सकता है.

Also Read-  India Vs China: India ‘Strengthens Military, Weapons’ in Pangong Lake Areas After China Tries to Move in

चीनी सेना का बयान

इसके बाद चीनी सेना का एक बयान आया जिसमें कहा गया कि भारतीय सेना ने दोनों देशों के बीच जारी बातचीत में बनी सहमति का उल्लघंन किया है. भारतीय सेना ने जानबूझ कर वास्तविक नियंत्रण रेखा को पार किया और उकसावे की कार्रवाई की.

पैंगोग लेक विवाद
Photo-in.tosshub.com

चीनी दूतावास ने क्या कहा

नई दिल्ली स्थित चीन दूतावास ने पैंगोग में हुई झड़प पर अपनी प्रतिक्रिया अलग से दी. दूतावास के प्रवक्ता ने जी रोंग ने कहा कि भारत बॉर्डर से सैनिकों को वापस बुलाए जाने की अपील की ताकि किसी भी तरह से स्थिति न बिगड़े. दूतावास ने आरोप लगाया कि 31 अगस्त को भारत के जवानों ने सभी समझौतों को तोड़ते हुए पैंगोग झील के पास घुसपैठ करने की कोशिश की.

Also read-  LAC face-off : India-China troops clashes at Pangong Tso

चीन के विदेश मंत्री का बयान

यूरोप दौरे पर गए चीन के विदेश मंत्री वॉन्ग यी ने पेरिस में फ्रेंच इंस्टिट्यूट ऑफ इंटरनेशनल रिलेशन्स में कहा कि भारत चीन सीमा का सीमांकन अभी होना बाकी है और इसकी वजह से हमेशा परेशानियां रहती हैं. उन्होंने कहा कि ड्रैगन और हाथी को एक-दूसरे से लड़ने की जगह, दोनों ड्रैगन और हाथी को साथ में डांस करना चाहिए, एक और एक दो नही, 11 भी हो सकते हैं.