बॉलीवुड फिल्म निर्माता कमल किशोर मिश्रा ने दूसरी महिला के साथ पकड़े जाने के बाद अपनी पत्नी को कार से कुचलने की कोशिश की

फिल्म निर्माता कमल किशोर मिश्रा के खिलाफ अपनी पत्नी को कार से टक्कर मारने का मामला दर्ज किया गया था। पुलिस ने पूछताछ के बाद निर्माता को गिरफ्तार कर लिया है। कमल किशोर मिश्रा की पत्नी की शिकायत के आधार पर अंबोली पुलिस ने फिल्म निर्माता के खिलाफ आईपीसी की धारा 279 और 338 के तहत मामला दर्ज किया था। इस घटना में उनकी पत्नी को सिर में चोट लगी थी और वह गंभीर रूप से घायल हो गई थीं। उनसे पूछताछ की जा रही थी।

पत्नी ने अपनी शिकायत में कहा था कि मिश्रा ने 19 अक्टूबर को कथित तौर पर उन्हें कार से टक्कर मार दी थी, जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गई थीं। शिकायत के मुताबिक घटना वाले दिन पीड़िता अपने पति की तलाश में निकली और उसे पार्किंग एरिया में अपनी कार में एक अन्य महिला के साथ पाया। जब वह उसका सामना करने गई, तो मिश्रा ने अपनी कार में मौके से भागने की कोशिश की और इस प्रक्रिया में अपनी पत्नी को टक्कर मार दी और भाग गया, जिससे उसके पैर, हाथ और सिर में चोट लग गई। बता दें कि पत्नी को टक्कर मारने की वारदात सीसीटीवी में भी कैद हो गई थी।

एक अधिकारी ने बताया कि कमल किशोर मिश्रा को गुरुवार को उपनगरीय मुंबई के एक पुलिस स्टेशन में पूछताछ के लिए घर से लाया गया था। उन्होंने कहा कि कथित घटना 19 अक्टूबर को अंधेरी (पश्चिम) में दंपति के अपार्टमेंट की पार्किंग में हुई जब मिश्रा की पत्नी ने उन्हें कार में एक अन्य महिला के साथ पाया। उन्होंने कहा, ‘आज दोपहर, हम मिश्रा को पूछताछ के लिए लाए और हम मामले की जांच कर रहे हैं। अब फिल्म निर्माता को गिरफ्तार कर लिया गया है।

बता दें कि कमल किशोर मिश्रा वन इंटरटेनमेंट फिल्म प्रोडक्शन नाम से प्रोडक्शन हाउस चलाते हैं। हाल ही में उन्होंने देहाती डिस्को फिल्म प्रोड्यूस की थी, जिसमें गणेश आचार्य नजर आए थे। इसके अलावा वह शर्मा जी की लग गई, फ्लैट नंबर 420 जैसी फिल्मों का निर्माण कर चुके हैं। वहीं, कमल किशोर मिश्रा ने ‘खल्ली बल्ली’ फिल्म को भी प्रोड्यूस किया था। यह फिल्म इसी साल आई थी और इसमें धर्मेंद्र, राजपाल यादव, मधू, हेमंत पांडे, विजय राज, रजनीश दुग्गल, किनायत अरोड़ा जैसे सितारे नजर आए थे। इस फिल्म का निर्देशन मनोज शर्मा ने किया था। कमल 2019 में निर्माता बने थे और उन्होंने अपने काम की नैतिकता की बदौलत जल्दी ही एक बड़ी प्रतिष्ठा हासिल कर ली थी।