बीजेपी के इस फायरब्रांड विधायक की थाने में जमकर पिटाई, विधायक का आरोप योगी राज में पुलिस उनकी नही सुन रही है

योगी राज में अराजकता चरम पर है पुलिस वालों पर इस बार अलीगढ़ के बीजेपी विधायक को ही पीट देने का आरोप लगा है. अलीगढ़ भाजपा विधायक राजकुमार अपने कुछ सहयोगियो के साथ हिन्दू-मुस्लिम विवाद का निपटारा करने थाने गए थे. इस दौरान थाना प्रभारी से कहासुनी के बाद पुलिस और विधायक पक्ष के लोगों के बीच हाथा-पाई शुरु हो गई. विधायक राजकुमार ने आरोप लगाया है कि दो सब-इंस्पेक्टर और एक इंस्पेक्टर ने उन्हें पीटा और कपड़े भी फाड़ दिये. घटना के बाद गोंडा थाना इलाके में तनाव की स्थिति बनी हुई है. स्थिति की गंभीरता को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है.

अलीगढ़ के गोंडा थाने में बीजेपी विधायक की पिटाई

अलीगढ़ के इगलास विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी विधायक राजकुमार को क्षेत्र के गोंडा थाने में पुलिस वालों ने जमकर पीट दिया. बताया जा रहा है कि विधायक राजकुमार औऱ एबीवीपी के कार्यकर्ता एक हिन्दू-मुस्लिम विवाद का निपटारा करने थाने पहुचे थे.

इसी बात को लेकर भाजपा विधायक और थाना प्रभारी अनुज कुमार सैनी के बीच कहा-सुनी इस कदर बढ़ गई की मारपीट की नौबत आ पहुंची. विधायक ने कहा कि ‘मुझे पीटा गया और कपड़े भी फाड़ दिए गए.’ वहीं दूसरी ओर थानेदार ने मामले पर विधायक पर ही मार-पीट का आरोप लगाया है. घटना के बाद थाने में अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया. बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता और स्थानीय नेताओं ने गोंडा थाने को घेर लिया है.

हिन्दू-मुस्लिम विवाद सुलझाने थाने आए थे

इगलास के पुलिस क्षेत्राधिकारी परशुराम सिंह के अनुसार 2 अगस्त को हिन्दू-मुस्लिम समुदाय के बीच विवाद हुआ था. इस मामले में दोनों पक्ष के लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई थी. लेकिन इसके बाद विधायक राजकुमार कुछ लोगों की पैरवी के लिए आए थे. उस दौरान क्या हुआ और कैसे हुआ इसकी जानकारी ली जा रही है.

उधर विधायक का आरोप है कि उन्होंने थानाध्यक्ष से कहा कि आप निर्दोष लोगों को न फंसाए तो थाना प्रभारी ने कहा कि ‘हम ऐसे ही करते हैं और यहां ऐसे ही होगा.’ इसके अलावा पूरे मामले को लेकर विधायक ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने उनकी एक नही सुनी और उन्हें पीट दिया.

घटना के बाद इलाके में तनाव

घटना के बाद गोंडा थाने में सैकड़ों की संख्या मे भाजपा के कार्यकर्ता एकत्रित हो गए हैं. स्थिति को संभालने के लिए गोंडा थाने पर अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया है. स्थानीय बाजार को भी स्थिति सामान्य होने तक बंद करा दिया गया है. बताया जा रहा है कि थाने के बाहर सैंकड़ों कार्यकर्ता पुलिस औऱ प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं.