बिहार चुनाव: एग्जिट पोल में NDA चारों खाने चित, तेजस्वी यादव बन सकते हैं सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री

बिहार विधासभा चुनाव के बाद आए एग्जिट पोल ने एनडीए को सकते में डाल दिया है. विभिन्न चैनलों के एग्जिट पोल में महागठबंधन को बहुमत की ओर बढ़ता दिखाया गया है. टुडेज चाणक्य के एग्जिट पोल में बिहार में महागठबंधन के भारी बहुमत के साथ सरकार बनने की बात कही गई है. चाणक्य के एग्जिट पोल की मानें तो बिहार में लालू यादव की राष्ट्रीय जनता दल को 44 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है ऐसे में एनडीए समेत अन्य दलों का सफाया हो जाएगा. महगठबंधन के जनादेश की ओर बढ़ते दिखने के बाद तेजस्वी यादव के मुख्यमंत्री बनने का रास्ता साफ हो जाएगा. अगर ऐसा हुआ तो वह अब तक के सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री बन सकते हैं.

तेजस्वी यादव और महागठबंधन
Photo-jagran.com

तेजस्वी यादव बन सकते हैं सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री

एग्जिट पोल के नतीजों के बाद तेजस्वी यादव को लेकर आम लोगों में चर्चाएं गर्म हो गई हैं. दरअसल जिस तरह से चुनाव रिजल्ट आने से पहले एग्जिट पोल ने महागठबंधन के जीत की भविष्यवाणी की है उसके आधार पर तेजस्वी यादव की प्रोफाइल बदलने जा रही है. वह बिहार के अगले मुख्यमंत्री हो सकते हैं. अगर ऐसा हुआ तो उन्हें अपने जन्मदिन के अगले ही दिन बड़ा तोहफा मिलने जा रहा है.

बता दें कि आज तेजस्वी यादव का जन्मदिन है और अगर 10 नवंबर को आने वाले चुनाव परिणाम में महागठबंधन को बहुमत मिलता है तो वह सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री बन सकते हैं. इससे पहले 1968 में सतीश प्रसाद सिंह 32 साल की उम्र में बिहार के मुख्यमंत्री बने थे. हालांकि सतीश प्रसाद सिंह का कार्यकाल केवल 5 दिनों का ही था. तेजस्वी यादव ने रोजगार और स्थाई नौकरी को मुद्दा बनाकर बिहार चुनाव में अपने प्रत्याशियों के लिए धुआंधार प्रचार किया था.

आरजेडी को जीत का भरोसा

RJD के राज्यसभा सदस्य मनोज झा ने कहा कि ओपिनियन पोल से लेकर एग्जिट पोल तक हमने काफी लंबा रास्ता तय किया है. इस दौरान लोगों ने तेजस्वी यादव में भरोसा जताया है. हमें जीत का पूरा भरोसा है.

NDA  को करिश्में की उम्मीद

एनडीए को भले ही एग्जिट पोल में बहुमत न मिल रहा हो लेकिन उसे उम्मीद की किरण अभी भी नजर आ रही है. बीजेपी और जनता दल यूनाइटेड दोनों को ही लगता है कि नीतीश कुमार के सुशासन के बल पर बिहार विधानसभा चुनाव परिणाम में करिश्मा हो सकता है. बिहार बीजेपी प्रमुख संजय जायसवाल को लगता है कि बिहार में ऐसे बहुत सारे वोटर हैं जिनको पीएम मोदी की योजनाओं से सीधा लाभ हुआ है और यह साइलेंट वोटर हैं. एग्जिट पोल में ऐसे वोटरों की राय ले पाना मुश्किल होता है. हमें अंतिम परिणाम का इंतजार करना चाहिए. हम आराम से सरकार बना लेंगे. इसके अलावा जेडीयू नीतीश कुमार की लोकप्रियता को लेकर भी आश्वस्त है.

Also read-  Shankaramurthy Requested PM Modi To Bestow ‘Bharat Ratna’ On BJP Patriarch L K Advani