इस दिवाली अयोध्या में योगी सरकार आयोजित करेगी वर्चुअल दीपोत्सव

कोरोना के कारण इस साल राम भक्त श्री राम जन्म दरबार में वर्चुअल दीपोत्सव मनाएंगे। लगभग पांच शताब्दी के बाद श्रीराम जन्मभूमि मन्दिर निर्माण का सपना पूरा हो रहा है। ऐसे में कोई भी राम दरबार में दीप जलाने से वंचित न रहे इसलिए सरकार ने यह सुविधा की है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सरकार एक विशेष पोर्टल तैयार कर यही है जहांँ सभी श्रद्धालु वर्चुअल दीप जला सकें।

वर्चुअल दीपोत्सव
Photo – Social Media

Also Read – जानिए Kate Rubins ने अमरीकी चुनाव में अंतरिक्ष से वोट कैसे डाला 

कैसे होगा वर्चुअल दीपोत्सव

इस बार अयोध्या में करोड़ों राम भक्त श्रीरामलला दरबार में वर्चुअल दीप जलाएंगे। सरकार द्वारा तैयार किया जा रहा है यह प्लेटफार्म बिल्कुल असली दीपोत्सव जैसा अनुभव देगा। प्लेटफार्म पर श्रीरामलला विराजमान की फोटो होगी। उसी फोटो के आगे सभी लोग ऑनलाइन दीप जलाएंगे।इतना ही नहीं पोर्टल पर दीपक जलाने वाले को सरकार की तरफ से धन्यवाद पत्र भी दिया जाएगा। श्रद्धालु अपनी भावना अनुसार मिट्टी तांबे अथवा किसी अन्य धातु के दीप स्टैंड का चयन कर सकेंगे तथा की सरसों आदि तेल का विकल्प भी उपलब्ध होगा।

वर्चुअल दीपोत्सव
Photo – Social Media

क्या होगा इस दीप उत्सव में

13 नवंबर को मुख्य समारोह से पहले यह वेबसाइट सभी लोगों के लिए उपलब्ध की जाएगी। पुरुषों के लिए पुरुष और महिलाओं के लिए महिलाओं के वर्चुअल हाथ दीप जलाएंगे। प्रधानमंत्री मोदी भी इस दीपोत्सव में सहभागिता लेंगे। हालांकि इस बार अयोध्या में बड़ी भव्यता से दीपोत्सव बनाने की तैयारी थी लेकिन कोरोना के चलते इसे वर्चुअल तरीके से भव्य बनाने की प्रक्रिया की जा रही है। वैसे इस बार भी राम की पौड़ी सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर लगभग 500000 से ज्यादा दिए जलाने की तैयारी की जा रही है। इन सभी खुशी और भव्यता के बीच योगी आदित्यनाथ ने साफ शब्दों में कहा है कि कोविड-19 नियमों का पालन कठोरता से होगा। कार्यक्रमों को इकट्ठा करने के बजाय हर कार्यक्रम को अलग-अलग दिन करने का निर्णय लिया गया है।