170 जगह से हुआ रिजेक्ट कहीं नहीं मिली नौकरी, परेशान होकर खुद खड़ी कर दी मल्टीनेशनल कंपनी

67

31 साल के आमिर कुतुब ऑस्ट्रेलिया की एक मल्टीनेशनल डिजिटल फर्म श्मंकीश के मालिक हैं। एक समय आमिर की जिंदगी में ऐसा भी था जब वह एअरपोर्ट में झाड़ू लगाते थे यहांँ तक लोगों के घरों में अखबार पहुँचाने का काम भी किया है। आमिर की जिंदगी में कितनी भी कठिनाई क्यों ना आई हो उन्होंने आगे बढ़ने का जुनून कभी नहीं छोड़ा और यही नतीजा है कि आज उनकी कंपनी 4 देशों में हैं।

मल्टीनेशनल कंपनी
Photo – Social Media

Also Read – जानिए कौन है प्रियंका राधाकृष्णन जिन्होंने न्यूजीलैंड के मंत्रिमंडल जगह बनाकर रच दिया इतिहास 

मल्टीनेशनल कंपनी बनाने तक पूरा सफर

आमिर दिल्ली के मल्टीनेशनल कंपनी में पहले काम करते थे। लेकिन आगे बढ़ाने और खुद कुछ अलग करने के जुनून में उन्होंंने वह नौकरी छोड़ दी और ऑस्ट्रेलिया चले गए। वहांँ 4 महीने में आमिर ने 170 जगह नौकरी पाने की कोशिश की, लेकिन उन्हें वहांँ कामयाबी हासिल नहीं हुई। उसके बाद आमिर ने एयरपोर्ट क्लीनिंग स्टाफ को ज्वाइन किया और साथ ही अखबार भी बांँटे। लंबे संघर्ष के बाद आमिर ने श्मंकीश नाम की डिजिटल सॉल्यूशन कंपनी की शुरुआत की जो की अब एक कामयाब कंपनी बन गई है।

मल्टीनेशनल कंपनी
Photo – Social Media

आमिर की उपलब्धियाँ

आमिर कुतुब ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से मैकेनिक इंजीनियरिंग की है। अपने कॉलेज के दौरान उन्होंने सन 2011 में छात्र संघ में सचिव पद का चुनाव लड़ा और सफलता हासिल की।पढ़ाई के दौरान ही आमिर ने यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स के लिए सोशल नेटवर्किंग साइट शुरू की जिसमें देखते ही देखते 15 दिनों में लाखों स्टूडेंट जुड़ गए। छात्रसंघ सचिव होने के नाते लगभग 30 नामी-गिरामी कंपनियों को यूनिवर्सिटी में कैंपस प्लेसमेंट के लिए बुलाया और 2000 छात्रों की नौकरियां लगवाई। ऑस्ट्रेलिया में अपनी कंपनी शुरू कर कामयाबी हासिल करने के बाद उन्हें ऑस्ट्रेलियन यंग बिजनेस लीडर ऑफ द ईयर अवार्ड से सम्मानित किया गया। ऑस्ट्रेलिया में आमिर को मेंबर ऑफ गीलोंज अथॉरिटी ने अपने योजना मंत्रालय में सलाहकार सदस्य के रूप में शामिल किया है।