पारदर्शी कराधान- प्रधानमंत्री ईमानदार का सम्मान’ नामक प्‍लेटफॉर्म लॉन्च कर करदाताओं का करेंगे सम्मान 

Credit: East Coast Daily English

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी 13 अगस्त 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ‘पारदर्शी कराधान – ईमानदार का सम्मान’ (Transparent Taxation — Honouring the Honest) नामक एक प्‍लेटफॉर्म लॉन्च करेंगे। आयोजन में केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण और वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर भी उपस्थित रहेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि आयकर विभाग के अधिकारियों एवं पदाधिकारियों के अलावा विभिन्न वाणिज्य मंडलों, व्यापार संघों एवं चार्टर्ड एकाउंटेंट संघों के साथ-साथ जाने-माने करदाता भी इस आयोजन में शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि ‘कर सुधार’ के तहत टैक्‍स की दरों को कम करने के साथ-साथ इसेकी पारदर्शिता पर भी फोकस किया गया है। सीबीडीटी (Central Board of Direct Tax) ने पिछले कुछ सालों में कई बड़े कर(Tax) सुधार लागू किए हैं। साल 2019 में कॉरपोरेट टैक्स की दर को 30 प्रतिशत से घटाकर 22 प्रतिशत कर दिया, इसके अलावा नई विनिर्माण इकाइयों (manufacturing units) के लिए इन दरों को और भी अधिक घटाकर 15 फिसदी तक कर दिया। आयकर विभाग के कामकाज में दक्षता और पारदर्शिता लाने के लिए सीबीडीटी द्वारा कई पहल की गई हैं।

बयान में बताया गया कि करदाताओं की शिकायतों और मुकदमों में प्रभावकारी रूप से कमी सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न अपीलीय न्यायालयों में विभागीय अपील दाखिल करने के लिए आरंभिक मौद्रिक सीमाएं बढ़ा दी गई हैं। डिजिटल लेन-देन और भुगतान के इलेक्ट्रॉनिक मोड या तरीकों को बढ़ावा देने के लिए भी कई उपाय किए गए हैं। आयकर विभाग इन पहलों को आगे ले जाने के लिए प्रतिबद्ध है।

यही नहीं, विभाग ने ‘कोविड काल’ में करदाताओं के लिए अनुपालन को आसान बनाने के लिए भी अनेक तरह के प्रयास किए हैं जिनके तहत रिटर्न दाखिल करने के लिए वैधानिक समयसीमा बढ़ा दी गई है और करदाताओं के हाथों में तरलता या नकदी प्रवाह बढ़ाने के लिए तेजी से रिफंड जारी किए गए हैं।